पीड़ित को स्वास्थ्य लाभ दिलाने में इच्छाशक्ति की जरूरत : ज्ञानचंद पारख

pali mla gyanchand parakh visits mittal hospital & Research Centre in ajmer
pali mla gyanchand parakh visits mittal hospital & Research Centre in ajmer

अजमेर। पाली के विधायक ज्ञानचंद पारख ने कहा कि पीड़ितों को स्वास्थ्य लाभ दिलाने में धन से ज्यादा इच्छाशक्ति की जरूरत है। पीड़ित की सहायता करने की यदि मन में भावना है तो धन तो स्वतः जुट जाता है।

राजस्थान सरकार असहाय और गरीब जरूरतमंद रोगियों को निःशुल्क चिकित्सा लाभ पहुंचाने के लिए दृढ़ संकल्पित है। यही कारण है कि आज भामाशाह योजना अन्तर्गत समूचे राजस्थान में सिर्फ सरकारी ही नहीं निजी चिकित्सा संस्थानों में भी गरीब को अच्छे से अच्छा निःशुल्क स्वास्थ्य लाभ मिल पा रहा है।

ज्ञानचंद पारख गुरुवार को अजमेर के मित्तल हाॅस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर पर भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत निःशुल्क उपचार के लिए भर्ती पाली जिले के तीन रोगियों की कुशलक्षेम पूछने अजमेर आए थे।

मित्तल हाॅस्पिटल पहुंचने पर निदेशक सुनील मित्तल, डाॅ दिलीप मित्तल, मनोज मित्तल, व वाइस प्रेसीडेंट श्याम सोमानी ने उनका स्वागत किया। इस दौरान वरिष्ठ हृदय रोग विशेषज्ञ डाॅ सूर्य, बे्रन व स्पाइन रोग विशेषज्ञ डाॅ सिद्धार्थ वर्मा, यूरोजोजिस्ट डाॅ कुलदीप शर्मा सहित अन्य चिकित्सकों से भी उन्होंने मुलाकात की।

विधायक पारख ने कहा दरअसल रोगी का सीधा रिश्ता चिकित्सक से बनता है, लेकिन रोगी को चिकित्सक से मिलाने वाली कडी के लोग यदि रोगी और उसके परिवार जन के मन में व्याप्त किसी भी भ्रम, भय और भ्रांति को मिटा कर सही तरीके से विश्वास कायम कर दे तो रोगी का पचास प्रतिशत उपचार तो पहले ही हो जाता है। उसके मन में चिकित्सा और चिकित्सालय के प्रति निश्चिंतता हो जाती है।

मित्तल हाॅस्पिटल अजमेर ने सामाजिक और समाजसेवी संस्थाओं के साथ मिलकर अजमेर, नागौर, भीलवाड़ा, पाली में एक दर्जन से अधिक श्रंख्लाबद्ध चिकित्सा शिविरों के आयोजन कर पीड़ित सेवा के प्रति महती भूमिका निभाई है। मित्तल हाॅस्पिटल अजमेर की टीम साधुवाद की पात्र है।

विधायक ज्ञानचंद पारख ने यहां मोडावास पाली निवासी माधाराम गुर्जर के ससुर दगलाराम की कुशलक्षेम पूछी। दगलाराम हृदय की बाईपास सर्जरी के लिए मित्तल हाॅस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर में भर्ती है। वरिष्ठ हार्ट एंड वास्कुलर सर्जन डाॅ सूर्या ने दगलाराम का गत दिनों आॅपरेशन किया। दगलाराम अब पूर्ण स्वस्थ्य है।

दगलाराम पाली के वृद्धाश्रम सेवा समिति में गत 24 फरवरी को आयोजित निःशुल्क सुपरस्पेशिलिटी चिकित्सा शिविर में परामर्श के लिए आया था। जहां से उसे भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना में निःशुल्क बाईपास सर्जरी के लिए चयनित किया गया। इसी तरह पाली निवासी भंवरदास के रीढ़ की हड्डी में फेक्चर था। वह बहुत दिनों से पीड़ा भुगत रहा था। आर्थिक स्थिति मजबूत नहीं होने के कारण उपचार में परेशानी थी।

भंवरदास के पुत्र प्रकाश दास ने बताया कि वह विधायक ज्ञानचंद पारख के सम्पर्क में आया तो उन्होंने उसे न सिर्फ सही राह दिखाई बल्कि उसे व उसके पिता को राहत प्रदान कराई। प्रकाश दास ने बताया कि उसके पिता का मित्तल हाॅस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर के ब्रेन व स्पाइन रोग विशेषज्ञ डाॅ सिद्धार्थ वर्मा ने आॅपरेशन कर उन्हें राहत दी है।

इसके अतिरिक्त मूलतः बाडिया, टाॅडगढ़ निवासी गेनसिंह को लम्बे समय से पथरी की समस्या थी। आर्थिक तंगी के कारण वह दर्द सह रहा था। गत दिना पाली में वृद्धाश्रम सेवा समिति की ओर से आयोजित चिकित्सा शिविर के बारे उसे पुत्र पाली निवासी रंजीतसिंह ने सूचना दी तो वह शिविर में परामर्श के लिए पहुंच गया। जहां से उसे भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत निःशुल्क उपचार के लिए चयनित किया गया। हाॅस्पिटल के यूरोलोजिस्ट डाॅ कुलदीप शर्मा ने उनका आॅपरेशन कर उन्हें राहत पहुंचाई।