अजमेर के डॉ. मोक्षराज पतंजलि यज्ञ समिति के प्रदेश प्रभारी मनोनीत

अजमेर। अमरीका में भारतीय संस्कृति और योग का प्रचार कर हाल ही में भारत लौटे डॉ. मोक्षराज को पतंजलि योगपीठ हरिद्वार के मुख्य केंद्रीय प्रभारी डॉ. जयदीप आर्य ने राजस्थान की पतंजलि यज्ञ समिति का प्रदेश प्रभारी मनोनीत किया है।

योगर्षि स्वामी रामदेव अब योग, आयुर्वेद तथा स्वदेशी अभियान के साथ-साथ घर-घर यज्ञ का प्रचार करेंगे, इसके लिए उन्होंने सम्पूर्ण भारत में विशाल अभियान की योजना बनाई है। राजस्थान में इस अभियान की बागडोर सर्वप्रथम आचार्य मोक्षराज के हाथों में सौंप दी है।

20 ज़िलों में होंगे हवन

इस संबंध में डॉ. मोक्षराज ने बताया कि अब हम राजस्थान पूर्व के 20 ज़िलों में विशाल हवन कार्यक्रम आयोजित करेंगे। इन ज़िलों में अजमेर, जयपुर, दौसा, भरतपुर, अलवर, सवाई माधोपुर, धौलपुर, बूंदी, कोटा, झालावाड़, बारां टोंक, सीकर, झुंझुनूं, बीकानेर, श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, चूरु व करौली ज़िले सम्मिलित हैं।

प्रत्येक ज़िले में यज्ञ समितियों का गठन होगा

अगले सप्ताह से डॉ. मोक्षराज प्रदेश भर में जिला स्तरीय यज्ञ समितियों का गठन करेंगे। संगठन से जुड़े हुए वे लोग जो बुनियादी रूप से संस्कृत व वेदों का ज्ञान रखते हैं, उनके चयन को प्राथमिकता दी जाएगी। यज्ञ प्रभारियों की नियुक्ति के लिए किसी भी जाति या वर्ग का बंधन नहीं होगा।

यज्ञ के अनुसंधान में भी रहा है डॉ. मोक्षराज का योगदान

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान परिषद ICMR द्वारा जवाहर-लाल नेहररु मेडिकल कॉलेज अजमेर में कराए गए यज्ञ के अनुसंधान में डॉ. मोक्षराज की अग्रणी भूमिका रही है। उन्होंने आर्यसमाज के स्वामी कृष्णानंद सरस्वती तथा माइक्रोबायोलॉजी डिपार्टमेंट की हेड डॉ. विजयलता रस्तोगी के साथ अनुसंधान में प्रमुख भूमिका निभाई थी, इस अनुसंधान द्वारा यज्ञ आश्चर्यजनक प्रभावों को रिकॉर्ड किया गया।

स्वाइन फ्लू मुक्त अजमेर मिशन का किया था आगाज़

सन् 2010 में डॉ. मोक्षराज ने अंतरराष्ट्रीय वेद प्रचारिणी सभा के माध्यम से अजमेर शहर में 70 दिन तक स्वाइन फ्लू मुक्त अजमेर मिशन चलाया था। जिसमें उन्होंने आज़ाद पार्क व पुराने सैटेलाइट हॉस्पिटल के पास के गार्डन आदि शहर के प्रमुख उद्यानों में, सौ से अधिक धार्मिक स्थलों पर तथा झुग्गी-झोपड़ियों में विशेष औषधियों द्वारा नि:शुल्क हवन कराए थे तथा बैलगाड़ियों में बड़े-बड़े हवन कुंड रखकर उन्होंने शहर के विभिन्न पाँच मार्गों पर हवन का रोगनाशक धुआं भी बिखेरा था।

अमरीका में रहते हुए भी किए हवन

डॉ. मोक्षराज अमेरिका की राजधानी वाशिंगटन DC में तीन वर्ष तक रहे, जहां उन्होंने विभिन्न यज्ञ समितियों से संपर्क कर साप्ताहिक हवन का कार्यक्रम आरंभ किया। यज्ञ प्रचार के लिए पतंजलि योग पीठ द्वारा डॉ. मोक्षराज को मिली नई ज़िम्मेदारी से प्रदेश के पतंजलि योग समिति, भारत स्वाभिमान, युवा भारत तथा विभिन्न धार्मिक संगठनों के कार्यकर्ताओं में खुशी की लहर दौड़ गई है।

निःशुल्क यज्ञ प्रशिक्षण शिविर प्रारंभ

पतंजलि चिकित्सालय जनता कॉलोनी वैशाली नगर अजमेर की ओर से शुक्रवार को निशुल्क यज्ञ प्रशिक्षण शिविर प्रारंभ हो गया, यह शिविर 3 दिन चलेगा। इस शिविर में 40 प्रतिभागियों ने भाग लिया और विधिवत वैदिक रीति से यज्ञ करना सीखा।

प्रथम दिन यज्ञ शिविर के प्रशिक्षक आचार्य हेमंत आर्य के द्वारा यज्ञ के वैज्ञानिक महत्व तथा दैनिक जीवन में यज्ञ के प्रयोग का महत्व बताया गया। यज्ञ के मंत्रों का उच्चारण सिखाया गया तथा यज्ञ प्रक्रिया में प्रत्येक चरण को करने का सरल तरीका बताया गया।

इस अवसर पर पतंजलि चिकित्सालय के प्रबंधक अनीश गुप्ता द्वारा आचार्य का दुपट्टा ओढ़ाकर अभिनन्दन किया गया तथा प्रत्येक प्रतिभागी का माल्यार्पण कर उसे गायत्री पत्रिका की भेंट दी गई। इस यज्ञ शिविर में दूसरे दिन अर्थात शनिवार को यज्ञ द्वारा विभिन्न रोगों के उपचार विषय पर प्रकाश डाला जाएगा।