जनप्रतिनिधि सरकार एवं जनता के बीच की पहली कड़ी होता है : डोटासरा

जयपुर। राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा ने कहा कि नगर निकायों में जीते हुए जनप्रतिनिधि सरकार एवं आम जनता के बीच की पहली कड़ी होते हैं, इसलिये आम जनता की समस्याओं के निदान की पहली जिम्मेवारी निकायों के पार्षदगण एवं सभापतियों की होती है।

डोटासरा प्रदेश कांग्रेस कार्यालय पर आज जयपुर पर अजमेर, जयपुर तथा भरतपुर सम्भाग के नगर निकायों में कांग्रेस पार्टी से जीते हुए चेयरमेन तथा वाईस चेयरमेन की बैठक लेकर संवाद किया तथा नगर निकायों के कार्यों की समीक्षा करने के साथ ही जमीनी स्तर पर कार्य करते हुए आम लोगों तक राजस्थान सरकार की फ्लैगशिप योजनाओं का लाभ मिले यह सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी प्रदान की।

डोटासरा ने बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि सभी नगर निकायों के चेयरमेन एवं वाईस चेयरमेन पार्षदगण से समन्वय बनाकर काम करें तथा फीडबैक लेकर जनसमस्याओं के समाधान हेतु योजनाएं बनाए। उन्होंने कहा कि नगर निकायों के चेयरमेन एवं पार्षदगण संगठन के प्रतिनिधियों से प्राप्त सुझावों की पालना गंभीरता से करें तथा संगठन से जुडक़र जमीनी स्तर पर कार्य कर रहे कार्यकर्ताओं को साथ लेकर जनसमस्याओं के निराकरण में जुट जाएं।

उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता ने बहुमत प्रदान कर कांग्रेस पार्टी को प्रदेश में कल्याणकारी सरकार चलाने की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी प्रदान की है। उन्होंने कहा कि गुड गर्वनेन्स के आधार पर कार्य करते हुए प्रदेश की सरकार ने मुख्यमंत्री चिरंजीवी योजना सहित अनेक लोककल्याणकारी योजनायें बनाकर प्रदेश की जनता को लाभान्वित किया है।

उन्होंने कहा कि राजस्थान सरकार के गुड गर्वनेन्स का ही परिणाम है कि कांग्रेस पार्टी प्रदेश में हुए विधानसभा उप चुनावों से लेकर शहरी निकायों एवं पंचायत राज संस्थाओं के चुनावों में विजयी रही है।