केन्द्र सरकार के विरूद्ध देश में जन आक्रोश चरम पर है : गोविंद सिंह डोटासरा

जयपुर। राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा ने कहा कि भाजपा की केन्द्र सरकार के विरूद्ध राजस्थान ही नहीं पूरे देश में जन अक्रोश चरम पर है।

डोटासरा ने प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी भाजपा द्वारा राज्य की कांग्रेस सरकार के विरूद्ध आज जारी जन अक्रोश आरोप पत्र पर पलटवार करते हुए कहा कि भाजपा के प्रदेश के नेता झूठे तथ्यों के आधार पर राजस्थान की जनकल्याणकारी कांग्रेस सरकार जिसके गुड गर्वनेन्स एवं जनहितकारी फैसलों की सराहना देश ही नहीं विश्व कर रहा है, को बदनाम करने का असफल प्रयास कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राजस्थान की जनता से ईस्टर्न राजस्थान कैनाल प्रोजेक्ट जिसके द्वारा प्रदेश की 43 प्रतिशत आबादी को पीने का पानी तथा दो लाख हेक्टयर अतिरिक्त सिंचित भूमि मिलेगी को राष्ट्रीय परियोजना बनाने का वादा किया था, किन्तु प्रदेश से जलशक्ति मंत्री होते हुए भी उक्त वादा केन्द्र की भाजपा सरकार भुला चुकी है।

डोटासरा ने कहा कि प्रदेश से चुने हुए 25 के 25 सांसद मौन हैं, जिस कारण प्रदेश की जनता भाजपा के विरूद्ध आक्रोशित है। उन्होंने कहा कि राजस्थान की कांग्रेस सरकार ने 9600 करोड़ रूपए बजट में आवंटित कर परियोजना को प्रारम्भ किया है तथा केन्द्र सरकार द्वारा सहायता ना करने पर भी परियोजना को पूर्ण करने का बीड़ा उठाया है।

उन्होंने कहा कि महंगाई एवं बेरोजगारी कम करने में नाकाम रही केन्द्र सरकार जिसकी आर्थिक नीतियों के कारण अमीर और अमीर बन रहा है तथा गरीब और अधिक गरीब हो गया है। उन्होंने कहा कि भाजपा शासन के दौरान 20 करोड़ से अधिक लोग गरीबी की रेखा से नीचे आ गए हैं जिस कारण देश एवं प्रदेश की जनता का भाजपा के खिलाफ आक्रोश समय-समय पर प्रदर्शित होता है।

डोटासरा ने कहा कि कोरोना महामारी जैसी विकराल समस्या के बावजूद राजस्थान सरकार द्वारा युवाओं को 1.32 लाख नौकरियां अब तक दी जा चुकी हैं, एक लाख नौकरियां प्रक्रियाधीन हैं तथा एक लाख नौकरियां देने की घोषणा बजट में की गई है जबकि पूर्ववर्ती भाजपा सरकार के शासन में कुल 5 वर्ष में मात्र डेढ़ लाख नौकरियां ही दी गई थी।

उन्होंने कहा कि राजस्थान सरकार की नीतियों के फलस्वरूप प्रदेश में बड़े उद्योगपतियों द्वारा 10.50 लाख करोड़ रूपए से अधिक का निवेश के लिये समझौता पत्र पर हस्ताक्षर हुए हैं जिसके परिणामस्वरूप 10 लाख से अधिक युवाओं को रोजगार की सम्भावनाएं सृजित हुई हैं।

उन्होंने कहा कि प्रदेश भाजपा राजस्थान सरकार द्वारा चलाई जा रही जनकल्याणकारी योजनाओं एवं जनहित में लिये गये फैसलों से बौखलाई हुई है तथा प्रदेश भाजपा के नेता बंद कमरों में बैठकर केन्द्र की भाजपा सरकार द्वारा राजस्थान की जनता से की गई वादाखिलाफी से अनभिज्ञ होकर प्रदेश की लोककल्याणकारी कांग्रेस सरकार को बदनाम करने की कुचेष्टा कर रहे हैं, जबकि प्रदेश की जनता भाजपा एवं भाजपा नेताओं के विरूद्ध आक्रोशित है।