लोग मुझे मारने के लिए आए थे : प्रवीण तोगड़िया

People had came to kill me claims VHP leader Pravin Togadia
People had came to kill me claims VHP leader Pravin Togadia

गांधीनगर। लापता होने के बाद बेहोशी की हालत में मिले विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने मंगलवार को कहा कि उन्हें ऐसा लग रहा है कि उनकी हत्या की जा सकती है।

सोमवार को उनके लापता होने की खबर मिलने के बाद तोगड़िया देर रात अहमदाबाद के शाही बाग इलाके में एक निजी अस्पताल में बेहोशी की हालत में मिले थे।

तोगड़िया ने अहमदाबाद में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि मुझे एक दशक पुराने मामले को लेकर निशाना बनाया जा रहा है। मेरी आवाज को दबाने का प्रयास किया जा रहा है। राजस्थान पुलिस की टीम मुझे गिरफ्तार करने के लिए आई थी। किसी ने मुझे बताया कि मुझे मारने की योजना थी।

तोगड़िया ने कहा कि राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और गृह मंत्री गुलाब चंद कटारिया ने उसी दिन उन्हें आश्वासन दिया था कि उनके खिलाफ किसी तरह की पुलिस कार्रवाई नहीं की जा रही।

तोगड़िया के अनुसार उन्होंने मुझसे कहा कि उन्होंने कोई पुलिस टीम नहीं भेजी और अगर ऐसा कुछ होता तो हमें उसकी जानकारी होती। जब मुख्यमंत्री व गृहमंत्री ने पुलिस कार्रवाई से इनकार कर दिया तो मैंने अपने मोबाइल फोन बंद कर दिए ताकि कोई मेरा पता न लगा सके। बाद में मुझे पता चला कि वे (पुलिस) मेरे पास गिरफ्तारी वारंट के साथ आए थे।

वहीं, सोमवार को लोगों ने तोगड़िया को बेहोशी की हालत में चंद्रमणि अस्पताल में भर्ती कराया। डॉक्टरों ने दावा किया कि शर्करा के स्तर में कमी आने के कारण वह बेहोश हुए।

इसी बीच अहमदाबाद की अपराध शाखा ने कहा कि विश्व हिंदू परिषद के नेता की खोजबीन के लिए एक विशेष दल का गठन किया गया था।