पेट्रोल पम्प डीलर्स का एक ही सवाल, क्यों नहीं मिल रही सप्लाई?


अजमेर।
पेट्रोल पंपों पर तेल की आपूर्ति के संकट से शहर से कहीं अधिक ग्रामीण क्षेत्र के उपभोक्ता मुश्किल में हैं। राजधानी जयपुर, अजमेर समेत सहित पूरे प्रदेश में पेट्रोल पंप ड्राई होने लगे हैं। जनता पेट्रोल-डीजल की किल्लत से जूझ रही है। आगे हालात और भी भयावह होने का भय है।

राज्य के कई जिलों में पेट्रोल डीजल का कृत्रिम संकट खड़ा कर दिया गया है। एचपीसीएल और बीपीसीएल ने पम्पों पर पेट्रोल डीजल की राशनिंग जैसे हालात पैदा कर दिए हैं। इससे फिलहाल तो पम्प संचालकों में हड़कम्प मचा है, लेकिन हालात यही रहे तो आगामी दिनों में आम जनता में भी अफरा तफरी मचने की आशंका खड़ी हो गई है।

राजस्थान पेट्रोलियम ​डीलर एसोसिएशन की अजमेर इकाई के पदाधिकारियों के साथ मंगलवार सबह बडी संख्या में डीलर्स एचपीसीएल के सराधना टर्मिनल पर जा पहुंचे और जिम्मेदार अफसरों से सीधे ही जानना चाहा कि लाखों रुपए एडवांस जमा कराने के बावजूद उनकी सप्लाई क्यों रोकी जा रही है। कभी दो दिन तो कभी चार दिन बाद भी तेल नहीं दिया जा रहा है।

एचपीसीएल टर्मिनल सराधना के उप महाप्रबंधक (संस्थापन) संजय एम.श्रीवास्तव से हुई वार्ता में डीलर्स ने कहा कि विगत काफी समय से टर्मिनल से अनियमित सप्लाई मिल रही है। किसी के यहां तो बुक करते ही गाड़ी पहुंच रही है तो किसी को दो-तीन दिन तक परेशान होना पड़ रहा है। डीलर्स ने मांग उठाई कि उन्हें जरूरत के मुताबिक पेट्रोल डीजल की सप्लाई दी जाए। टर्मिनल प्रबंधन ने उन्हें आश्वासन देकर लौटा दिया।

अजमेर के जिला रसद अधिकारी से लगाई गुहार

एचपीसीएल टर्मिनल के सराधना से लौटकर डीलर्स ने अजमेर जिला रसद अधिकारी से गुहार लगाई है। डीएसओ को दिए ज्ञापन में राजस्थान पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन के बैनरतले बताया कि अजमेर जिले में एचपीसीएल के पम्पों पर सराधना टर्मिनल से और भारत पेट्रोलियम के पम्पों पर जोबनेर टर्मिनल से सप्लाई दी जाती है। लेकिन इन दिनों दोनों टर्मिनल से पेट्रोल डीजल की नियमित सप्लाई नहीं होने से जिले के कई पम्प ड्राई हो रहे हैं। एसोसिएशन के सचिव राकेश विजयवर्गीय ने जिला प्रशासन से दोनों कम्पनियों को पाबंद करने की मांग की है।

पूरे प्रदेश में पेट्रोल पंप सूख रहे, समय रहते हो आपूर्ति

आरपीडीए ने प्रदेश में पेट्रोलियम पदार्थों की कृत्रिम कमी का आरोप लगाते हुए कहा है कि सरकार की जिम्मेदारी है कि किसानों के हित में खरीफ की बोवाई के इस समय में कंपनियां पेट्रोलियम पदार्थों की आपूर्ति सुनिश्चित कराए।

खरीफ की बोवाई के समय में डीजल की मांग लगातार बढ़ रही है और आपूर्ति अभी से बाधित होने लगी है। किसान अब डीजल की कमी की मार भी झेलने को मजबूर हैं। उन्होंने सरकार से मांग की कि समय रहते तत्काल पेट्रोल डीजल की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित कराएं।

एचपीसीएल के सराधना टर्मिनल ने पल्ला झाडा

आरपीडीए के पदाधिकारियों के नेतृत्व में डीलर्स ने पेट्रोल पंपों पर फ्यूल आपूर्ति सुनिश्चित कराने की मांग को लेकर हिन्दुस्तान पेट्रोलियम के सराधना टर्मिनल के उपमहाप्रबंधक संजय श्रीवास्तव से मुलाकात की। उन्होंने बताया कि टर्मिनल सरकार के आदेशों और कंपनी की नियमों के अनुरूप संचालित होता है। सप्लाई तय दिशा निर्देशों के तहत दी जा रही है। उन्होंने स्वीकार की आम दिनों की तुलना में सीमित मात्रा में फ्यूल दिया जा रहा है। लेकिन पेट्रोल पंप ड्राई ना हो इसके लिए कंपनी के संबंधित अधिकारी यथा संभव प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने मिक्स लोड यानी एक टेंकर से दो पंपों न पर सप्लाई की नीति को लागू करने का भरोसा दिलाया ताकि कोई पंप ड्राई ना रहे।