कीजिये सैर भारत के इन चमत्कारी और रहस्यमयी मंदिर की

 Please visit this miraculous and mysterious temple of India

Please visit this miraculous and mysterious temple of India

भारत को धर्म भूमि के नाम से जाना जाता हैं, क्योंकि यहाँ कई धर्मों का वास हैं। भारत में मंदिरों की बहुत महत्ता है, और हो भी क्यों नहीं यहाँ मंदिर हैं ही इतने चमत्कारी। इस आध्यात्म देश में ऐसे कई मंदिर हैं जो अपने चमत्कारों और विचित्रापन की वजह से देश-विदेश में बहुत प्रसिद्द हुए।

करनी माता का मंदिर , बीकानेर

करनी माता का यह मंदिर जो बीकानेर (राजस्थान) में स्थित है,  इस मंदिर में रहते हैं लगभग 20 हजार काले चूहे। लाखों की संख्या में पर्यटक और श्रद्धालु यहां अपनी मनोकामना पूरी करने आते हैं।  मंदिर को ‘चूहों वाला मंदिर’ भी कहा जाता है। यहां चूहों को काबा कहते हैं और इन्हें बाकायदा भोजन कराया जाता है। यहां इतने चूहे हैं कि आपको पांव घिसटकर चलना पड़ेगा। कहा जाता है कि एक चूहा भी आपके पैर के ऊपर से होकर गुजर गया तो आप पर देवी की कृपा हो गई समझो और यदि आपने सफेद चूहा देख लिया तो आपकी मनोकामना पूर्ण हुई समझो।

HOT NEWS UPDATE : हम सभी चाहते है कि नया साल हमारा बहुत अच्छा जाये || तो देखिये ये वीडियो और जानिये क्या करे की 2018 बहुत अच्छा जाये

 किराडू मंदिर, बारमेर

राजस्थान के बारमेर जिले में स्थित इस किराडू के मंदिर विषय में ऐसी मान्यता है कि यहां शाम ढ़लने के बाद जो भी रह जाता है वह या तो पत्थर का बन जाता है या मौत की नींद सो जाता है।

कामाख्या मंदिर

यह मंदिर तीन हिस्सों में बना है। इसका पहला हिस्सा सबसे बड़ा है, जहां पर हर शख्स को जाने नहीं दिया जाता है। दूसरे हिस्से में माता के दर्शन होते हैं, जहां एक पत्थर से हर समय पानी निकलता है। कहते हैं कि महीने में एकबार इस पत्थर से खून की धारा निकलती है।

HOT NEWS UPDATE : 2018 में वाला सपना चौधरी का गाना जिसे सुन कर सब लगाएंगे ठुमके || जानने के लिए देखिये ये वीडियो

ज्वालामुखी मंदिर, हिमाचल प्रदेश

ज्वाला देवी का प्रसिद्ध ज्वालामुखी मंदिर हिमाचल प्रदेश के कालीधार पहाड़ी के मध्य स्थित है। यह भी भारत का एक प्रसिद्ध शक्तिपीठ है, जिसके बारे में मान्यता है कि इस स्थान पर पर माता सती की जीभ गिरी थी। माता सती की जीभ के प्रतीक के रुप में यहां धरती के गर्भ से लपलपाती ज्वालाएं निकलती हैं, जो नौ रंग की होती हैं। आज भी लोगों को यह पता नहीं चल पाया है यह प्रज्वलित कैसे होती है और यह कब तक जलती रहेगी।

शनि शिंगणापुर,  अहमदनगर

देश में सूर्यपुत्र शनिदेव के कई मंदिर हैं। एक प्रमुख है महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले में स्थित शिंगणापुर का शनि मंदिर। विश्वप्रसिद्ध इस शनि मंदिर की विशेषता यह है कि यहां स्थित शनिदेव की पाषाण प्रतिमा बगैर किसी छत्र या गुंबद के खुले आसमान के नीचे एक संगमरमर के चबूतरे पर विराजित है। यहां शिगणापुर शहर में भगवान शनि महाराज का खौफ इतना है कि शहर के अधिकांश घरों में खिड़की, दरवाजे और तिजोरी नहीं हैं। क्योंकि यहां चोरी नहीं होती।

आपको यह खबर अच्छी लगे तो SHARE जरुर कीजिये और  FACEBOOK पर PAGE LIKE  कीजिए,  और खबरों के लिए पढते रहे Sabguru News और ख़ास VIDEO के लिए HOT NEWS UPDATE