सुरक्षा नियमों का पालन सबकी सुरक्षा का मंत्र : पीएम मोदी

PM Modi  : 41st education of mann ki baat
PM Modi : 41st education of mann ki baat

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सुरक्षा के लिए सतर्क रहने और नियमों के पालन को जरूरी बताते हुए आज कहा कि इनके अनुपालन से हम न सिर्फ खुद के जीवन को सुरक्षित रख सकते हैं बल्कि समाज को भी बड़ी दुर्घटनाओं से बचा सकते हैं।

मोदी ने रेडियो पर प्रसारित अपने मासिक कार्यक्रम ‘मन की बात’ के 41वें संस्करण में कहा कि चार मार्च को राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस मनाया जाएगा। दैनिक जीवन में सुरक्षा को लेकर सतर्कता आवश्यक है। इससे न सिर्फ प्राकृतिक आपदाओं के समय जीवन को सुरक्षित रखने में मदद मिलेगी बल्कि दुर्घटनाओं से भी बचा जा सकता है। दैनिक जीवन में सुरक्षा को लेकर अगर हम जागरूक नहीं होते हैं तो फिर आपदा के दौरान इसे पाना मुश्किल हो जाता है।

निजी सुरक्षा को लेकर लोगों से नियमों का पालन करने का आग्रह करते हुए मोदी ने कहा कि दैनिक जीवन में यदि हम सड़कों के किनारे सुरक्षा को लेकर लिखे गए वाक्यों का अनुसरण भी करें तो भी जीवन को बचाया जा सकता है।

उन्होंने कहा सड़कों पर सुरक्षित सफर के लिए “सतर्कता हटी-दुर्घटना घटी, एक भूल करे नुकसान, छीने खुशियां और मुस्कान, इतनी जल्दी न दुनिया छोड़ो, सुरक्षा से अब नाता जोड़ो, सुरक्षा से न करो कोई मस्ती, वर्ना ज़िंदगी होगी सस्ती जैसे कई उपयोगी वाक्य लिखे होते हैं।

उन्होंने कहा कि इन वाक्यों का हमारे जीवन में कभी-कभी कोई उपयोग ही नहीं होता है। प्राकृतिक आपदाओं को अगर छोड़ दें तो ज़्यादातर दुर्घटनाएँ, हमारी कोई-न-कोई गलती का परिणाम होती हैं।

अगर हम सतर्क रहें, आवश्यक नियमों का पालन करें तो हम अपने जीवन की रक्षा तो कर ही सकते हैं, लेकिन, बहुत बड़ी दुर्घटनाओं से भी हम समाज को बचा सकते हैं। कभी-कभी हमने देखा है कि कार्य क्षेत्र में सुरक्षा को लेकर बहुत सूत्र लिखे होते हैं लेकिन जब देखते हैं तो कहीं उसका पालन नज़र नहीं आता है।