राजग देश की सुरक्षा तथा विकास के मुद्दे पर लड़ रहा चुनाव : मोदी

पालीगंज। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज विपक्ष पर तीखा प्रहार करते हुए कहा कि महामिलावटी घोर नकारात्मकता के साथ चुनाव लड़ रहे हैं जबकि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन देश की सुरक्षा और विकास के मुद्दे पर जनादेश मांग रहा है।

मोदी ने यहां पाटलिपुत्र और पटना साहिब संसदीय क्षेत्र के भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवारों के पक्ष में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि ये जितने भी महामिलावटी हैं, वे घोर नकारात्मकता के साथ चुनाव लड़ रहे हैं और उनके पास दो ही मुद्दे हैं मोदी की छवि खराब करो और मोदी को हटाओ लेकिन इन महामिलावटियों को एहसास नहीं है कि मोदी को आज 130 करोड़ भारतीयों का आशीर्वाद प्राप्त है। उन्होंने कहा कि दूसरी ओर राजग देश की सुरक्षा और विकास के मुद्दे पर चुनाव लड़ रहा है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि महामिलावटी लोग दिल्ली में एक मजबूर सरकार का सपना पाले हुए हैं लेकिन उनकी उम्मीदों पर देश की जनता ने पानी फेर दिया है। महामिलावटी लोगों ने निजी स्वार्थ को सर्वोपरि रखा। कांग्रेस का नामदार परिवार हो या फिर बिहार का भ्रष्ट परिवार, इनकी संपत्ति आज सैकड़ों हजारों करोड़ रुपए में है। आखिर यह पैसे कहां से आए। उन्होंने कहा कि अगर इन महामिलावटियों को देश और गरीब की जरा सी भी परवाह होती तो भ्रष्टाचार करने से पहले ही इनके हाथ कांपते।

प्रधानमंत्री ने कहा कि महामिलावटी लोगों ने बिहार को विकास से वंचित रखा। जिस जाति के नाम पर राजनीति की और पद प्रतिष्ठा के साथ अरबों खरबों के मालिक बन गए, उनके साथ भी इन लोगों ने विश्वासघात किया है। उन्होंने कहा कि कि उनकी पार्टी चलाने के लिए उनके परिवार के बाहर किसी को योग्य नहीं समझा गया।

मोदी ने कहा कि अपनी पार्टी में दूसरे लोगों पर दबाव बनाए रखने के लिए होनहार नौजवानों को गलत रास्ता पकड़ा दिया। नौजवानों को जाति के नाम पर भ्रमित करके और उनके कंधे पर बंदूक रखकर इन लोगों ने अपने ही जमात और जाति को बंधक बना दिया। उन्होंने कहा कि अब देश और बिहार बदल रहा है। 21 वीं सदी का नौजवान अब उनके झांसे में आने वाला नहीं है।

जब देश की बात आती है तो हर व्यक्ति पहले भारतीय होता है और उसके बाद कुछ और।
प्रधानमंत्री ने कहा कि देश के हर वर्ग, क्षेत्र और समुदाय का विकास जरूरी है इसलिए उनकी सरकार सबका साथ सबका विकास के मंत्र को लेकर आगे बढ़ रही है। यही कारण है कि आजादी के बाद पहली बार सामान्य वर्ग के गरीब युवाओं को भी 10 प्रतिशत आरक्षण का लाभ मिल रहा है।

मोदी ने कहा कि वह यदुवंश की धरती गुजरात से है जहां दो ‘मोहन’ हुए। एक से उन्हें देश की सुरक्षा और दूसरे से देश के विकास की प्रेरणा मिली। एक मोहन हैं जिन्हें कन्हैया, कृष्ण और बाल गोपाल कहा जाता है जो माखन खाते थे और उनके हाथ में बांसुरी तो दूसरे में सुदर्शन चक्र होता था। दूसरे मोहन हैं चरखा चलाने वाले मोहनदास करमचंद गांधी। उन्होंने कहा कि एक मोहन का सुदर्शन चक्र देश की रक्षा और दूसरे का चरखा उन्हें देश के विकास के लिए प्रेरित करता है। इसलिए जरूरत पड़ी तो भारत भगवान कृष्ण की तरह आतंकियों के खात्मे के लिए सुदर्शन चक्र भी धारण करेगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि हमने 2022 तक किसान की आय दोगुनी करने का संकल्प लिया है, अन्नदाता को सौर ऊर्जा दाता बनाने का काम हाथ में लिया है। इसके लिए बीज से बाजार तक नयी व्यवस्थाएं खड़ी की जा रही हैं । बिहार के गांव-गांव की उम्मीदों को, सपनों को र्नइ ऊंचाई देने के लिए, गरीब से गरीब तक टेक्नोलॉजी को हम कैसे पहुंचा रहे हैं, इसका उदाहरण है डिजिटल इंडिया अभियान। उन्होंने कहा कि भाजपा-राजग सरकार की नीतियों के कारण आज दुनिया में सबसे सस्ता इंटरनेट भारत में है। गरीब युवा इस सस्ते इंटरनेट का लाभ पढ़ाई के लिए कर रहे हैं।

मोदी ने कहा कि पीएम किसान योजना के तहत सीधे किसानों के खाते में मदद दी जा रही है। इसी तरह पशुपालकों के लिए किसान क्रेडिट कार्ड के माध्यम से ऋण दिया जा रहा है। मछली के व्यापार से जुड़े लोगों के लिए भी किसान क्रेडिट कार्ड की व्यवस्था की गई है।

उन्होंने कहा कि बिहार का बहुत पैसा मछली के लिए बाहर जाता है जबकि बिहार में पानी है जिससे वह मछली की अपनी आवश्यकताओं को पूरा करने के बाद देश के अन्य हिस्सों में भी इसकी आपूर्ति कर सकता है। उनकी सरकार ने इसे ध्यान में रखकर मछुआरों के लिए अलग विभाग बनाने का भी निर्णय लिया है।