गुजरात दौरे के पहले दिन प्रधानमंत्री मोदी ने किया कई परियोजनाओं का लोकार्पण

गांधीनगर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज अपने गृह राज्य गुजरात के दो दिन के दौरे पर पहुंचे और पहले दिन उन्होंने कई परियाजनाओं का लोकार्पण किया जबकि शनिवार को वे लौह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल की 145वीं जयंती के अवसर पर नर्मदा ज़िले के केवड़िया में उनकी विश्व की सबसे ऊंची प्रतिमा स्टेच्यू ऑफ यूनिटी पर भावांजलि अर्पित करेंगे और अहमदाबाद में देश की पहली सी-प्लेन सेवा का भी उद्घाटन करेंगे।

मोदी का आज पूर्वाह्न लगभग दस बजे अहमदाबाद हवाई अड्डे पर राज्यपाल आचार्य देवव्रत, मुख्यमंत्री विजय रूपाणी, उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल, गृह राज्य मंत्री प्रदीपसिंह जाडेजा, अहमदाबाद की महौपार बीजलबेन पटेल, सांसद सह सत्तारूढ़ भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सीआर पाटिल, मुख्य सचिव अनिल मुकीम, ने स्वागत किया।

बाद में वह राजधानी गांधीनगर पहुंचे और उन्होंने कल दिल का दौरा पड़ने से दिवंगत हुए पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल (92) के आवास पर जाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कोरोना के चलते हाल में मरने वाले गुजराती फ़िल्मों के सुपरस्टार नरेश कनोडिया और उनसे दो दिन पहले ही गुज़रे उनके गायक-संगीतकार भाई सह पूर्व लोकसभा सांसद महेश कनोडिया को भी श्रद्धा सुमन अर्पित किए।

वह दोपहर बाद मध्य गुजरात के नर्मदा ज़िले के केवड़िया पहुंचे। उन्हें वहां स्टेच्यू ऑफ यूनिटी परिसर के पर्यटन विकास की विभिन्न 17 परियोजनाओं का लोकार्पण और 4 का शिलान्यास किया। उन्होंने इस अवसर पर एक मिनी ट्रेन में भी यात्रा की।

वर्ष 2019 के दौरान रिकार्ड समय में इन 17 परियोजनाओं को तेजी से पूरा किया गया है। दो वर्ष पूर्व 31 अक्टूबर, 2018 को स्टेच्यू ऑफ यूनिटी को राष्ट्र को समर्पित करने के बाद प्रधानमंत्री ने केवड़िया के एक विश्वस्तरीय पर्यटन स्थल के रूप में एकीकृत विकास के लिए अलग-अलग थीम पर आधारित परियोजनाएं शुरू करने का सुझाव दिया था।

प्रधानमंत्री ने केवड़िया में जंगल सफारी, हैंडलूम और हैंडीक्राफ्ट, विविधता में एकता के प्रतीक एकता मॉल, दुनिया का सबसे पहला तकनीकी आधारित बाल पोषण पार्क (चिल्ड्रन न्यूट्रिशन पार्क), देश के सबसे पहले यूनिटी ग्लो गार्डन तथा कैक्टस गार्डन का लोकार्पण किया।

उन्होंने स्टेच्यू ऑफ यूनिटी के निकट बनाई गई जेट्टी से श्रेष्ठ भारत भवन के पास स्थित जेट्टी तक 40 मिनट की राइड में बैठने से पहले 9 अन्य परियोजनाओं का भी लोकार्पण किया। इनमे जेट्टी और बोटिंग (एकता क्रूज), नेविगेशन चैनल, नया गोरा ब्रिज, गरुड़ेश्वर वीयर, एकता नर्सरी, खलवाणी ईको टूरिज्म, सरकारी कॉलोनियां, बस टर्मिनस तथा होम स्टे सम्मिलित हैं।

प्रधानमंत्री ने स्टेच्यू ऑफ यूनिटी एरिया डेवलपमेंट एंड टूरिज्म गवर्नेंस अथॉरिटी के प्रशासनिक भवन, सरकारी कॉलोनियों, एसआरपी क्वार्टर्स तथा केवड़िया के आसपास के पांच गांवों के प्रभावितों को बसाने के लिए सभी मूलभूत सुविधा युक्त 400 मकान वाली आदर्श ग्राम कॉलोनी सहित 4 नयी परियोजनाओं का शिलान्यास भी किया।

स्टेच्यू ऑफ यूनिटी के आसपास के लगभग 25 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में एक अरब लाइट से स्थायी रूप से सुसज्जित की गई डेकोरेटिव लाइटिंग तथा सरदार सरोवर डैम की खास डिजाइन की गई डेकोरेटिव लाइटिंग का भी प्रधानमंत्री ने उद्घाटन किया।

शनिवार सुबह राष्ट्रीय एकता परेड में उपस्थित होने से पहले प्रधानमंत्री आरोग्य वन का दौरा करेंगे। आरोग्य वन एक विशिष्ट प्रकार का गार्डन है जिसकी विशेष डिजाइन को कुछ इस तरह अंजाम दिया गया है कि मानव शरीर और चेतना का सातत्य बरकरार रहे।

प्रधानमंत्री देश में सर्वप्रथम सी-प्लेन के जरिए केवड़िया से अहमदाबाद प्रस्थान करने के लिए तालाब नं. 3 के वाटर ड्रोम का उद्घाटन सरदार पटेल की जयंती पर करेंगे। इसके लिए निजी उड्डयन सेवा प्रदाता कम्पनी स्पाइस जेट 19 सीटों वाले एक विमान का इस्तेमाल करेगी जिसमें शुरुआत में 12 हाई सीटों का इस्तेमाल किया जाएगा और अहमदाबाद के साबरमती नदी में बने वोटर ड्रोम यानी जलीय हवाई अड्डे से केवड़िया के तलब नम्बर 3 के वोटर ड्रोम के बीच का किराया प्रति व्यक्ति 4800 रुपए होगा।