कठुआ और उन्नाव रेप केस : पीएम मोदी ने तोडी चुप्पी, पढें क्या बोले

नई दिल्ली। कठुआ और उन्नाव में बलात्कार की घटनाओं पर अब तक चुप्पी साधे रहे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि ये देश को शर्मसार करने वाली घटनाएं हैं। दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा और इन बेटियों को न्याय मिलेगा।

मोदी ने यहां राष्ट्रीय अंबेडकर स्मारक का उदघाटन करने के बाद कहा कि पिछले दो दिनों से जो घटनाएं चर्चा में है वे निश्चित रूप से किसी भी सभ्य समाज के लिए शर्मनाक हैं। एक समाज के रूप में, एक देश के रूप में हम सब इस के लिए शर्मसार हैं।

उन्होंने कहा कि देश के किसी भी राज्य में, किसी भी क्षेत्र में होने वाली ऐसी वारदातें, मानवीय संवेदनाओं को झकझोर देती हैं। जिस तरह की घटनाएं हमने बीते दिनों में देखीं हैं, वे सामाजिक न्याय की अवधारणा को चुनौती देती हैं।

इन घटनाओं पर कड़ी कार्रवाई का भरोसा दिलाते हुए उन्होंने कहा कि मैं देश को विश्वास दिलाना चाहता हूं कि कोई अपराधी बचेगा नहीं। जिन बेटियों के साथ जूल्म हुआ है उन्हें न्याय मिलेगा। उन्होंने कहा कि समाज की इस आंतरिक बुराई को खत्म करने का काम, सभी को मिलकर करना होगा।

मोदी ने कहा कि मैंने तो लाल किले से बोलने का साहस किया था कि लड़की से तो हर कोई पूछता है, लड़कों से पूछो कि तुम घर इतनी देर से क्यों आए हो। ये लड़के भी किसी के मां के बेटे होंगे। हमें पारिवारिक व्यवस्था, से लेकर न्याय व्यवस्था तक, सभी को इसके लिए मजबूत करना होगा। तभी हम बाबा साहेब के सपनों का भारत बना पाएंगे, न्यू इंडिया बना पाएंगे।

उल्लेखनीय है कि जम्मू कश्मीर के कठुआ में आठ वर्षीय बच्ची के साथ गैंगरेप के बाद उसकी हत्या कर दी गई थी। उत्तर प्रदेश के उन्नाव में भी एक नाबालिग लड़की के साथ गैंगरेप किया गया और उसके पिता को पीट पीट कर मार दिया गया। विपक्ष इन दोनों मामलों में कार्रवाई नहीं होने का आरोप लगा रहा है और मोदी पर इसमें चुप्पी साधे रहने का आरोप लगा रहा था।