प्रधानमंत्री की सुरक्षा में हुई चूक की जांच के लिए उच्च स्तरीय कमेटी गठित

चंडीगढ़। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कल पंजाब दौरे के समय सामने आयी घोर लापरवाही की जांच के लिए पंजाब सरकार ने एक उच्च स्तरीय कमेटी का गठन किया है।

आज यहां सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि कमेटी में जस्टिस (अवकाश प्राप्त) मेहताब सिंह गिल तथा गृह विभाग एवं न्याय मामलों के प्रधान सचिव अनुराग वर्मा शामिल होंगे। कमेटी तीन दिन में अपनी रिपोर्ट पेश करेगी।

ज्ञातव्य है कि श्री मोदी कल खराब मौसम के दौरान बठिंडा पहुंचे और बारिश तथा दृश्यता कम और अन्य कारणों के चलते वे बठिंडा से फिरोजपुर रैली के लिए सड़क मार्ग से जा रहे थे तो रास्ते में कुछ किसान प्रदर्शनकारियों ने उनका रास्ता रोका जिसकी वजह से प्रधानमंत्री का काफिला बीच सड़क पर रूका रहा।

जबकि प्रधानमंत्री के लिए व्यापक सुरक्षा इंतजाम और सुरक्षित मार्ग देना चाहिए था लेकिन ऐसा न होने के कारण उनके काफिले को करीब बीस मिनट तक रूकना पड़ा। सुरक्षा में चूक के कारण वे हवाई अड्डे लौट आए तथा रैली में भाग लिए बिना वे दिल्ली लौट गए।

मोदी को फिरोजपुर में हजारों करोड की विकास परियोजनाओं की आधारशिला रखनी थी और भाजपा के चुनावी शंखनाद का आगाज करना था।