नीरव मोदी की बहन ने भारत सरकार को लौटाए 17.25 करोड़

नई दिल्ली। भगोड़ा हीरा कारोबारी नीरव मोदी की बहन पूर्वी मोदी ने सरकार को 17.25 करोड़ रुपए की राशि लौटाई है।

प्रवर्तन निदेशालय ने गुरुवार को बताया कि वादा माफ गवाह बन चुकी पूर्वी मोदी ने लंदन के उसके एक बैंक खाते से 23,16,889.03 डॉलर (17.25 करोड़ रुपए) भारत सरकार के बैंक खाते में भेजे हैं। इस प्रकार नीरव मोदी मामले में 17.25 करोड़ रुपए की वसूली हो गई है। नीरव के खिलाफ पंजाब नेशनल बैंक से दो अरब डॉलर की जालसाजी का आरोप है।

नीरव मोदी मामले में विशेष पीएमएलए अदालत के समक्ष 24 मई 2018 और 28 फरवरी 2019 को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा दायर दो शिकायतों में पूर्वी मोदी (उर्फ पूर्वी मेहता) और उसके पति मयंक मेहता को भी आरोपी बनाया गया था।

दोनों ने विशेष अदालत के समक्ष वादा माफी गवाह बनने के लिए आवेदन दिया था जिसे 04 जनवरी 2021 को जारी आदेश में अदालत ने स्वीकार कर लिया था। उन्होंने वादा किया था कि वे पूरी जानकारी जांच एजेंसी से साझा करेंगे।

पूर्वी मोदी ने 24 जून को ईडी बताया था कि उसे लंदन में एक खाते की जानकारी मिली है जो उसके भाई नीरव मोदी ने उसके नाम पर खोला था। उसने बताया कि खाते में जमा राशि उसके नहीं हैं। उसने पूरी राशि भारत सरकार के खाते में जमा करा दी है।