स्वतन्त्रता दिवस पर सभी देशवासियों को समर्पित

*स्वरचित ध्वज गान*
🇮🇳🇮🇳 *झंडा ऊँचा हमारा है …..*🇮🇳🇮🇳
*(स्वतन्त्रता दिवस पर सभी देशवासियों को समर्पित….)*
दिल में प्यार तुम्हारा है ,भारत को तू प्यारा है ।
झंडा ऊँचा हमारा है ,जग में सबसे ही न्यारा है ।।
तीन रंग लिए फहरा करता  ,
आंधी तूफां से नहीँ डरता  ।
समय का पहिया आगे बढ़ता  ,
तुझको देख के जी नहीँ भरता ।।
वारूं जीवन सारा ये ,झंडा ऊँचा हमारा है ।
दिल में प्यार तुम्हारा है ,भारत को तू प्यारा है ।
झंडा ऊँचा हमारा है ,जग में सबसे ही न्यारा है ।।
उड़ता आसमान में चढ़के ,
तुझको देख देख मन हरखे  ।
रहता दुनियां में आगे बढ़के ,
भाग्य हमारा क्यों नहीँ दमके ।
तू तो मान हमारा है ,झंडा ऊँचा हमारा है ।
दिल में प्यार तुम्हारा है ,भारत को तू प्यारा है ।
झंडा ऊँचा हमारा है ,जग में सबसे ही न्यारा है ।।
तुझ पर बलि बलि हम न्यौछावर ,
महिमा तेरी है सबसे ऊपर ।
गाएँ गीत गजल सब तुझ पर ,
बन जाए ये इतिहास धरोहर  ।
पूजे तुझे जग सारा ये ,झंडा ऊँचा हमारा है  ।
दिल में प्यार तुम्हारा है ,भारत को तू प्यारा है ।
झंडा ऊँचा हमारा है ,जग में सबसे ही न्यारा है ।।
दिन स्वतन्त्रता (गणतंत्र का )जब जब आए ,
महल मुंडेरों पे तू लहराए ।
शान-मान तू मन में जगाए ,
तुझ पर तन-मन-जान लुटाएं ,
तुझको नमन हमारा है ,झंडा ऊँचा हमारा है ।
दिल में प्यार तुम्हारा है ,भारत को तू प्यारा है ।
झंडा ऊँचा हमारा है ,जग में सबसे ही न्यारा है ।।
जब सेनाएँ रण में जाएं ,
दुश्मन को वो धूल चटाएं ।
सैनिक तुझ पर जान लुटाएं ,
पर मुस्कान न मिटने पाए ।
(सब मिल ‘ जय हो तेरी ‘ गाएँ )
ढूंढे तेरा सहारा है ,झंडा ऊँचा हमारा है ।
( गूंजे ‘ जय हुंकारा ‘ है झंडा ऊँचा हमारा है ।)
दिल में प्यार तुम्हारा है ,भारत को तू प्यारा है ।
झंडा ऊँचा हमारा है ,जग में सब से ही न्यारा है ।। 👉👉👉 ÷÷÷÷÷📝📝     ÷÷  *D Kumar-अजस्र (दुर्गेश मेघवाल )*👉