जयपुर : कांस्टेबल परीक्षा में नकल गिरोह के छह सदस्य अरेस्ट

जयपुर। राजस्थान स्पेशल आपरेशन ग्रुप ने पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा में ऑनलाइन नकल करवाने वाले गिरोह के छह सदस्यों को गिरफ्तार किया है।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक करण शर्मा ने बताया कि गिरफ्तार किए गए सभी युवक हरियाणा और दिल्ली के है जो मोटी रकम लेकर युवकों को नकल कराते थे। उन्होंने बताया कि प्रांरभिक जांच में यह खुलासा हुआ कि गिरोह के सदस्य ढाई लाख से पांच लाख रूपए की राशि लेकर नकल कराते थे।

उन्होंने बताया कि राजस्थान में पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा के लिए पहली बार कंप्यूटर के जरिए ऑनलाइन परीक्षा आयोजित की गई थी। इसके लिए झालानी औधोगिक क्षेत्र में स्थित सरस्वती इंफोटेक्स नामक एक कंपनी को ठेका दिया गया था। इस कंपनी के संचालक परीक्षार्थियों से मिलकर नकल करा रहा था।

उन्होंने बताया कि इस गिरोह के सदस्यों ने संस्थान में छापा मारा तो वहां कई तरह की गडबडियां पाई गई। इनमें परीक्षार्थियों के लिए अलग से लाइन खडी की गई थी जो कि नहीं होनी चाहिए। संचालकों ने केन्द्र के पास ही फ्लैट और कमरा किराये पर ले रखा था।

कंपनी ने परीक्षा स्थल पर तीन सौ कम्प्यूटर लगा रखे थे ओर इनकाे किराये के फ्लैट और कमरे से जोड़ रखा था। जहां से इन कम्प्यूटरों को वायरलैस से जोड़ रखा था। इस वायरलैस से परीक्षार्थियों के कम्प्यूटर से जोड़ दिया जाता था ओर परीक्षा के स्क्रीन को हैक कर उत्तर डाल दिए जाते थे।

उन्होंने बताया कि यह गत 7 मार्च से शुरु परीक्षा 45 दिनों तक चलनी थी। इस ऑनलाइन परीक्षा के लिए राजस्थान में जयपुर, जोधपुर, अजमेर, अलवर, बीकानेर, झुंझुनूं, कोटा, सीकर, श्रीगंगानगर और उदयपुर में कई इंस्टीट्यूट्स में परीक्षा सेंटर बनाए गए थे। जिनमें तीन पारियों में अभ्यर्थियों की ऑनलाइन परीक्षा ली जानी थी।