अजमेर में एबीवीपी कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने भांजी लाठियां


अजमेर।
सम्राट पृथ्वीराज चौहान राजकीय महाविद्यालय में सोमवार को प्राचार्य को ज्ञापन सौंपने एकत्र आए अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने जमकर लाठियां भांजी। एबीवीपी कार्यकर्ता अपनी मांगों को लेकर ज्ञापन देने पहुंचे थे, लेकिन रोके जाने पर उन्होंने पुलिसकर्मियों और कॉलेज स्टाफ से धक्का-मुक्की कर दी। जिसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज कर प्रदर्शनकारियों को कॉलेज के बाहर खदेड़ दिया।

एबीवीपी के कार्यकर्ता 25 पर्सेट सीटों में बढ़ोतरी, एनसीसी सीटों में बढ़ोतरी, स्विमिंग पूल का जीर्णोद्धार कराने के साथ ही 6 सूत्रीय मांगों को लेकर कॉलेज में विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। प्रदर्शन के बाद उन्होंने कॉलेज के प्राचार्य को ज्ञापन सौंपा, लेकिन इसी बीच छात्रों ने हंगामा शुरू कर दिया।

रोकने पर उन्होंने कॉलेज स्टाफ और पुलिस कर्मियों के साथ धक्का मुक्की कर दी। जिसके बाद पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा। अजमेर पुलिस ने एबीवीपी के महानगर मंत्री विकास गौरा और आशुराम डूकिया के साथ दो अन्य छात्रों को गिरफ्तार किया है।

कॉलेज प्राचार्य दीपक मेहरा ने बताया कि वे खुद ज्ञापन लेने बाहर गए थे, लेकिन छात्रों ने पुलिस के साथ बदतमीजी और अभद्र भाषा का उपयोग किया। इसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज किया। थाना अधिकारी दिनेश कुमावत ने कहा कि छात्र प्राचार्य कक्ष के गेट पर हंगामा कर रहे थे।

इस दौरान वे पुलिस के साथ भी धक्का-मुक्की करने लगे। इसके बाद पुलिस ने हल्का बल का प्रयोग करते हुए सभी विद्यार्थियों को खदेड़ा और कुछ कार्यकर्ताओं को शांति भंग में गिरफ्तार किया।