सिंगर अदनान सामी को पद्मश्री की घोषणा पर राजनीति शुरू

Political row over Padma Shri to singer Adnan Sami
Political row over Padma Shri to singer Adnan Sami

जयपुर। हमारे देश के नेताओं को अब छोटी-छोटी बातों पर बयानबाजी, हंगामा और शोर मचाने की आदत हो गई हैं। अब यह नया हंगामा पाकिस्तानी मूल के गायक अदनान सामी को भारत सरकार के द्वारा दिया गया ‘पद्मश्री’ सम्मान को लेकर कांग्रेस के नेताओं ने विरोध किया हैं। कांग्रेस ने यहां तक कह दिया कि सामी को चमाचागिरी के कारण यह पुरस्कार मिला हैं।

यहां हम आपको बता दें कि पद्म पुरस्कारों को लेकर हर साल राजनीति हो ही जाती हैं। यह कोई पहला मौका नहीं हैं जब इन पुरस्कारों पर बयानबाजी हो रही हो। हालांकि सामी काे पद्मश्री दिए जाने पर कांग्रेस के कुछ नेताओं ने समर्थन भी किया हैं। दूसरी ओर महाराष्ट्र की मनसे पार्टी की ओर से भी सामी का विरोध किया गया हैं।

पद्म’ पुरस्कारों पर काफी समय से राजनीति होती रही हैं

पद्म’ पुरस्कारों पर काफी समय से राजनीति होती रही हैं। कई बार पुरस्कार की घोषणा के बाद विपक्षी दल सरकार को घेरते रहे हैं। मनमोहन सरकार के समय में भी इन पुरस्कारों पर सवाल उठे थे, और अब एनडीए सरकार में भी विपक्ष सवाल उठा रहा हैं। इसके अलावा देश के कुछ लोग ऐसे भी हैं जो अदनान सामी को पाकिस्तान बताकर बताकर हंगामा कर रहे हैं। इस मामले में कांग्रेस प्रवक्ता जयवीर शेरगिल ने कहा कि ऐसा क्यों हुआ कि करगिल युद्ध में शामिल हुए सैनिक सनाउल्लाह को ‘घुसपैठिया’ घोषित कर दिया गया, जबकि उस सामी को पद्म सम्मान दिया जा रहा है जिसके पिता ने पाकिस्तानी वायुसेना में रहकर भारत के खिलाफ गोलाबारी की थी।

अदनान सामी के सीएए का समर्थन करने पर कांग्रेस खफा है

गायक अदनान सामी ने केंद्र सरकार के नागरिकता संशोधन कानून का पिछले दिनों खुलकर समर्थन किया था। इसी बात को लेकर कांग्रेस उनसे नाराज हैं। कांग्रेस अदनान सामी को लेकर कोई मौका ढूंढ रही थी। गणतंत्र दिवस से पहले जब केंद्र सरकार ने सामी को पद्मश्री पुरस्कार देने की घोषणा की तब कांग्रेस को मौका मिल गया। सामी पाकिस्तान छोड़कर भारत आए हैं। वह पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से धार्मिक प्रताड़ना झेलकर भारत आए गैर-मुस्लिमों को नागरिकता देने के प्रावधान वाले संशोधित कानून का लगातार समर्थन कर रहे हैं।

एक तरफ जहां कांग्रेस के कुछ नेता सामी को मिले सम्मान का विरोध कर रहे हैं वहीं, मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने सामी को पद्मश्री के लिए शुभकामनाएं दी हैं। दिग्विजय ने  ट्वीट कर यह याद दिलाया हैं कि उन्होंने ही मोदी सरकार से सामी को भारतीय नागरिकता देने का आग्रह किया था।

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस को दिया जवाब

अदनान सामी के विरोध में उतरी कांग्रेस को केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता रविशंकर प्रसाद ने जवाब दिया हैं। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा, ‘कांग्रेस की नौटंकी देखिए कि गायक अदनान सामी को पद्मश्री पुरस्कार दिया तो उसमें परेशानी है। ये क्या हैं कांग्रेस की सोच। वह आए भारत के नागरिक बने, अच्छे गायक हैं। प्रसाद ने आगे कहा कि सामी की सोच एक भारतीय हैं न कि पाकिस्तानी, यह बात कवरेज को समझना चाहिए।

दूसरी और महाराष्ट्र में मनसे पार्टी ने भी सामी का विरोध किया हैं। हालांकि पार्टी प्रमुख राज ठाकरे की ओर से कोई अधिकारी बयान तो नहीं आया हैं, लेकिन मनसे के प्रवक्ता ने सामी को केंद्र सरकार के द्वारा पद्मश्री दिए जाने का विरोध जताया हैं।

शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार