पश्चिम बंगाल में तृणमूल कार्यकर्ता की पीट-पीट कर हत्या

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में चुनावों के पश्चात हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है और इसी कड़ी सोमवार रात राज्य के पूर्वी बर्धवान जिले के घलसी में तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ता जैकब रॉय(50) की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई।

तृणमूल ने जैकब राॅय की हत्या का आरोप भारतीय जनता पार्टी पर लगाया है हालांकि भगवा दल ने इससे इनकार किया है।

गौरतलब है कि लोकसभा चुनावों के दौरान सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस और भाजपा कार्यकर्ताओं के हिंसक झड़पें होने की कई घटनायें हुई थीं जिनमें कुछ लोगों की जानें भी गईं थी। यह सिलसिला 23 मई को चुनावी प्रक्रिया पूरी हो जाने के भी जारी है और दोनों दलों के कार्यकर्ताओं और समर्थकों के बीच झड़पें होने की लगातार खबरें आ रही हैं।

जैकब रॉय तीन तृणमूल कार्यकर्ताओं के साथ घर लौट रहे थे तभी एक समूह ने उन पर लोहे की रॉड से हमला कर दिया और उन्हें पीट-पीटकर गंभीर रूप से घायल कर दिया। रॉय को बचाने की कोशिश कर रहे उनके साथियों को भी इस हमले में गंभीर चोट आईं। सभी चारों घायलों को बर्धवान मेडिकल कालेज एवं अस्पताल ले जा गया जहां रॉय ने आज सुबह अंतिम सांस ली।

इस बीच उत्तरी 24 परगना जिले के जगाद्दल से मिली रिपोर्ट के अनुसार कल रात देशी बम के हमले में दो लोगों की मौत हो गई और तीन अन्य घायल हो गए। पुलिस इस मामले की जांच रही है। वहां से मिली रिपोर्ट के अनुसार मृतक सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता थे। इस हमले में एक व्यक्ति की मौके पर मौत हो गई जबकि एक व्यक्ति ने आज नादिया जिले के कल्याणी में जेएनएम अस्पताल में दम तोड़ दिया।

पुलिस ने बताया कि कुछ अज्ञात व्यक्तियों ने कल रात जगद्दल क्षेत्र में बारूइपरा में घुसकर कई बम फेंके जिससे दो व्यक्तियों की मौत हो गयी जबकि तीन अन्य घायल हो गए। एक घायल की हालत नाजुक है। भारतीय जनता पार्टी- राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के दो कार्यकर्ताओं के शव हावड़ा जिले के आम्ता गांव में सोमवार को पेड़ से लटके मिले थे जिससे इलाके में तनाव व्याप्त हो गया था।

भाजपा कार्यकर्ता समातुल दोलुई का शव सोमवार को पेड़ से लटका मिला। शव पर चोट के निशान थे। एक अन्य घटना में रविवार को हावड़ा जिले के अत्चटा गांव में संघ कार्यकर्ता सन्देश मन्ना का शव लटका हुआ पाया गया।

इस बीच, भाजपा नेता मुकुल रॉय ने मंगलवार को सन्देशखाली के नजत इलाके का दौरा किया जहां रविवार शाम हुए संघर्ष में भाजपा के दो और तृणमूल के एक कार्यकर्ता की मौत हो गई थी। रॉय ने मारे गए भाजपा कार्यकर्ताओं के परिजनों से मुलाकात की। वह शनिवार से गुमशुदा लोगों के आवास पर भी गए।