राजस्थान उपचुनाव : मतदान समाप्त, प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला EVM में कैद

Polling over mandawa-and-khinwsar-seats by-election in Rajasthan
Polling over mandawa-and-khinwsar-seats by-election in Rajasthan

जयपुर। राजस्थान में नागौर जिले के खींवसर और झुंझुनूं जिले के मंडावा विधानसभा क्षेत्रों के उपचुनाव में प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला ईवीएम में कैद हाे गया।

इन दोनों क्षेत्रों में आज शाम छह बजे मतदान समाप्त हो गया। मंडावा में नौ और खींवसर में तीन प्रत्याशी मैदान में थे। इन दोनों स्थानों पर विधायकों के सांसद चुने जाने के कारण उपचुनाव कराना पड़ा है।

दोनों स्थानों पर मतदान शांतिपूर्वक सम्पन्न हो गया। मतदान केंद्रों पर बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया था। मतदाताओं की कतारें सुबह से ही बनने लगी थीं तथा शाम छह बजे तक मतदाता केंद्रों पर आते रहे।

मंडावा में पिछली बार भाजपा के नरेंद्र खीचड़ ने चुनाव जीता था, लेकिन सांसद चुने जाने के बाद कराये गये उपचुनाव में पार्टी ने सुशीला सीगड़ा को मैदान मेंं उतारा, जबकि कांग्रेस ने पिछली बार की प्रत्याशी रीटा चौधरी पर ही दांव खेला।

खींवसर में भाजपा ने राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी को समर्थन दिया है। यहां से सांसद हनुमान बेनीवाल के भाई नारायण बेनीवाल रालोपा के प्रत्याशी हैं जबकि कांग्रेस ने यहां से पूर्व मंत्री हरेन्द्र मिर्धा को मैदान में उतारा है।

भाजपा ने मंडावा में काफी जोर लगाया तथा केंद्रीय मंत्रियों के साथ अभिनेत्री सांसद हेमामालिनी का चुनाव दौरा भी कराया। कांग्रेस के बड़े नेताओं में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट ने जिम्मेदारी संभाली।

उपचुनाव के नतीजों से राज्य की राजनीति में कोई ज्यादा उलटफेर की संभावना नहीं लगती, लेकिन मतदाताओं के रुख का अनुमान लग सकेगा।