सोनीपत के प्रदीप मलिक ने यूपीएससी परीक्षा में किया टॉप

सोनीपत। हरियाणा में सोनीपत जिले के गांव तेवड़ी के प्रदीप मलिक ने संघ लोक सेवा आयोग की वर्ष 2019 की परीक्षा के घोषित अंतिम परिणाम में देशभर में प्रथम स्थान प्राप्त किया है।

प्रदीप के पिता सुखबीर मलिक ने करीब दो दशक पहले बच्चों की बेहतर पढ़ाई के लिए परिवार को गांव से सोनीपत शहर में शिफ्ट कर लिया था। वर्तमान में उनका परिवार ओमेक्स सिटी, सोनीपत में रह रहा है।

प्रदीप ने बारहवीं शंभू दयाल स्कूल, सोनीपत से पास की थी तथा वह स्कूल का टॉपर रहे थे। उसके बाद 2012 में दीनबंधु छोटू राम विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, मुरथल सोनीपत से बीटेक की थी।

दो साल पहले संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा में प्रदीप ने 260वीं रैंक पाई थी और उसे भारतीय राजस्व सेवा (आईआरएस) में चयन हुआ था। वर्तमान में वह फरीदाबाद में आयकर विभाग में कार्यरत हैं।

आजकल वह अपने घर सोनीपत आए हुए हैं और दोपहर को जब परीक्षा परिणाम घोषित हुआ तो प्रथम स्थान पर अपना नाम देखकर एकबारगी उन्हें विश्वास नहीं हुआ। हालांकि उनकी परीक्षा और साक्षात्कार शानदार रहे थे मगर इस बात का यकीन नहीं था कि वह प्रथम स्थान हासिल कर सकते हैं।

प्रदीप ने कहा कि बतौर आईआरएस नौकरी करने के साथ-साथ रैंकिंग सुधारने के लिए दोबारा परीक्षा की तैयारी करना उसके लिए चुनौती थी। इस चुनौती को उसने स्वीकार किया और सफलता हासिल की। उन्होंने कहा कि भविष्य में बतौर आईएएस अपनी पोस्टिंग के दौरान गरीबों तथा किसानों की समस्याओं के समाधान को प्राथमिकता देंगे।

प्रदीप की सफलता से उसके गांव तेवड़ी तथा सोनीपत में घर के आसपास रहने वाले लोग काफी खुश हैं और बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है। दीनबंधु छोटूराम विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, मुरथल के कुलपति डॉ. राजेंद्र कुमार अनायत ने उनके घर पर जाकर बधाई दी और इस उपलब्धि के लिए विश्वविद्यालय की ओर से शील्ड देकर सम्मानित किया। मुख्यमंत्री के पूर्व मीडिया सलाहकार राजीव जैन उनके घर पहुंचे और मिठाई खिलाकर उसे बधाई दी। प्रदीप के परिवार ने बताया कि उनके परिवार का पुश्तैनी काम खेतीबाड़ी है।