प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना को मिली लोगों की सराहना

लखनऊ। कोरोना संकट के समय लोगों के भरण-पोषण की व्यवस्था करने की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की कोशिशों को सोशल मीडिया यूजर्स ने सलामी दी है।

गुरुवार को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत यूपी में 4 करोड़ लोगों को राशन वितरित हुआ तो ट्विटर पर #धन्यवाद_मोदीजी गूंजता रहा। करीब पांच घंटे तक यह हैशटैग ट्विटर इंडिया की टॉप ट्रेंडिंग में रहा। लोगों ने ट्वीट कर योगी सरकार के कोविड प्रबंधन की तारीफ की और प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में जारी विश्व के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान के लिए सराहना भी की।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कार्यालय ने भी #धन्यवादमोदीजी के साथ प्रधानमंत्री का आभार जताया। ट्विटर पर लिखा कि पीएमजीकेवाई विश्व का सबसे बड़ा अन्न वितरण अभियान है। प्रधानमंत्री जी के विजन का प्रतिफल है कि सदी की सबसे बड़ी महामारी की प्रथम लहर में अप्रैल, 2020 से नवंबर, 2020 तक व दूसरी लहर में मई, 2021 से नवंबर, 2021 तक इस योजना के तहत निःशुल्क अन्न वितरण हो रहा है। मुख्यमंत्री योगी के नेतृत्व में प्रदेश में प्रधानमंत्री का विजन ‘सबको राशन, सबको पोषण’ साकार हो रहा है। जनकल्याण के लिए प्रारम्भ की गई ‘प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना’ हेतु #धन्यवादमोदीजी।

एक अन्य ट्वीट में योगी आदित्यनाथ के कार्यालय ने लिखा कि कोरोना के विरुद्ध प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन तथा सीएम योगी महाराज के नेतृत्व में समाज के अंतिम पायदान पर मौजूद हर तबके तक शासन की प्रत्येक सुविधा पहुंचाने तथा जीवन व जीविका दोनों की सुरक्षा के लिए संतुलित व्यवस्था बनाई गई। पीएम मोदी तथा सीएम योगी के कुशल नेतृत्व व मार्गदर्शन में यूपी सरकार जनकल्याण हेतु कृतसंकल्पित है। बिना भेदभाव के ‘पीएमजीकेवाई’ के तहत हर जाति, धर्म, पंथ व मजहब के राशन कार्ड धारकों को निःशुल्क राशन प्रदान किया जा रहा है।

एक दिन में रिकार्ड तीन करोड़ 37 लाख लोगों को मिला फ्री राशन

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत उत्तर प्रदेश में एक दिन में 80 लाख से ज्यादा राशन कार्ड धारकों को एक लाख 68 हजार मीट्रिक टन से अधिक फ्री राशन देकर नया रिकार्ड बना है। इससे तीन करोड़ 37 लाख से अधिक लोग लाभान्वित हुए हैं। इसके साथ ही विश्व में एक दिन में सबसे अधिक लोगों को फ्री राशन देने में यूपी का नाम दर्ज हो गया है।

योजना के तहत 11 महीनों मे केंद्र सरकार और पांच महीने राज्य सरकार ने लोगों को फ्री राशन दिया है। इससे प्रदेश के करीब 15 करोड़ लोगों को हर माह फ्री राशन मिला है। कोराना काल में कोई भूखा न रहे, इसलिए निर्देश दिया था कि एक भी जरूरतममंद राशन से वंचित न रहे, राशन कार्ड न हो, तो तत्काल बनाएं।

ई पॉस मशीनों के माध्यम से हर लाभार्थी की सूचना पल-पल दिनभर अपडेट होती रही। इसके माध्यम से कितने लोगों को राशन मिला, इसे लाइव देखा जा सकता था। लाभार्थी को राशन मिलने के बाद ई पॉस मशीनों पर अंगूठा लगाते ही सूचना वेबसाइट पर अपडेट हो रही थी।

सुबह से शुरू हुए इस कार्यक्रम में देर शाम तक पांच करोड़ से अधिक लाभार्थियों को राशन मिल चुका था। प्रदेश में एक दिन में सबसे अधिक राशन आजमगढ़, प्रयागराज, गोरखपुर और सीतापुर जिले में दिया गया। आजमगढ़ में 2,57,848, प्रयागराज में 2,45,708, गोरखपुर में 2,33,500 और सीतापुर में 2,27,900 कार्ड धारकों को राशन दिया गया है।