रामनाथ कोविंद 29 अगस्त को अयोध्या में करेंगे रामलला के दर्शन

अयोध्या। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 29 अगस्त को अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि पर विराजमान रामलला का दर्शन और पूजन करेंगे।

विश्व हिन्दू परिषद के प्रांतीय मीडिया प्रभारी शरद शर्मा ने कहा कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का अयोध्या का आगमन 29 अगस्त को हो रहा है। कोविंद के अयोध्या अगमन को लेकर यहां के संत-धर्माचार्यों में खुशी की लहर है। उन्होंने कहा कि अयोध्या में विराजमान श्रीरामजन्मभूमि पर दर्शन करने के लिए पहली बार यहां आ रहे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का अयोध्यावासी पलक पांवड़े बिछाकर अभिनंदन करेंगे।

उन्होंने कहा कि प्रभु श्रीरामलला के चरणों में रामभक्त रामनाथ कोविंद जैसा नाम वैसा ही उनका कार्य भी है। उन्होंने बताया कि इसके पहले पिछले वर्ष पांच अगस्त को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का अयोध्या आगमन व प्रभु श्रीरामलला के जन्मभूमि पर मंदिन निर्माण के लिए भूमिपूजन करना भी अयोध्यावासियों के लिए ही नहीं सम्पूर्ण देश के लिए सुखद रहा। यह पहली बार है जब अयोध्या के इतिहास में प्रधानमंत्री और अब देश के प्रथम नागरिक अर्थात् राष्ट्रपति कोविंद श्रीरामलला का दर्शन करने के लिए अयोध्या आ रहे हैं।

शर्मा ने कहा कि यह उसी प्रकार है जिस प्रकार से गुजरात में सोमनाथ की मुक्ति के उपरान्त निर्मित हुए सोमनाथ मंदिर प्राण प्रतिष्ठा और भूमि पूजन के दौरान देश के उपप्रधानमंत्री लौहपुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल तथा देश के प्रथम राष्ट्रपति बाबू राजेन्द्र प्रसाद का वहां जाना हुआ और आस्था के केन्द्र को अपना सम्पूर्ण समर्थन दिया था। उसी पद चिन्हों पर चलते हुए प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति जी का आगमन अयोध्या में होने जा रहा है। हम सब अयोध्यावासी उनके आगमन की प्रतीक्षा कर रहे हैं और पलक पांवड़े बिछाए हुए हैं।

उन्होंने कहा कि सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार 29 अगस्त को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद प्रदेश की राजधानी लखनऊ से ट्रेन से अयोध्या आएंगे। हांलाकि सरकारी तौर पर अभी इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है लेकिन आगमन को लेकर अयोध्या में तैयारियां जोरशोर से शुरू हो गई हैं।