प्रधानमंत्री मोदी करेंगे ग्लोबल मोबिलिटी शिखर सम्मेलन का शुभारंभ

Prime Minister Modi will launch of Global Mobility Summit
Prime Minister Modi will launch of Global Mobility Summit

नयी दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शेयर्ड, कनेक्टेड और शून्य उत्सर्जन को देश की मोबिलिटी में बढ़ावा देने तथा इसको लेकर नीति आदि पर विचार-विमर्श के लिये नीति आयोग द्वारा आयोजित किये जा रहे दो दिवसीय वैश्विक मोबिलिटी शिखर सम्मेलन ‘मूव’ का शुक्रवार को यहां शुभारंभ करेंगे।

नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार अौर मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत ने गुरुवार को यहां सड़क परिवहन, ऊर्जा और इलेक्ट्रानिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालयों के वरिष्ठ अधिकारियों की मौजूदगी में संवाददाताओं को यह जानकारी देते हुए कहा कि अपने तरह का यह पहला शिखर सम्मेलन है जिसमें पूरे विश्व से 2,200 प्रतिभागियों के शामिल होने की उम्मीद है। इनमें सरकार, उद्योग, शोध-संगठनों, अकादमिक जगत, थिंक-टैंक और सिविल सोसायटी की हस्तियां शामिल हैं। उन्होंने कहा कि उद्घाटन सत्र को 11 वैश्विक सीईओ भी संबोधित करेंगे। इसके बाद 12 सीईओ एक पैचल परिचर्चा में अपने विचार रखेंगे।

उन्होंने कहा कि सम्मेलन में 30 से अधिक वैश्विक सीईओ, 100 से अधिक राज्यों के अधिकारी, 100 से अधिक विदेशी प्रतिनिधि और 200 से अधिक भारतीय कंपनियों के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) भाग लेंगे। इसके साथ ही भारत में स्थिति दूतावास एवं उच्चायोग के अधिकारी के साथ ही अमेरिका, जापान, सिंगापुर, दक्षिण अफ्रीका, दक्षिण कोरिया, न्यूजीलैंड, आस्ट्रिया, जर्मनी, ब्राजील और कई अन्य देशों की निजी कंपनियां भी शिरकत करेंगी।

उपाध्यक्ष ने कहा कि सामान्तर सत्रों में पांच विषय आधारित रिपोर्ट पर भी चर्चा की जायेगी। इस दौरान होने वाले विभिन्न सत्रों में सड़क परिवहन एवं राजमार्ग, जहाजरानी एवं जल संसाधन मंत्री नितिन गडकरी, रेल एवं कोयला मंत्री पीयूष गोयल, इलेक्ट्रानिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद, पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान और नागर विमानन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा पहले दिन विभिन्न सत्रों में भाग लेंगे। दूसरे दिन आवास एवं शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडनवीस और दिल्ली में उप राज्यपाल अनिल बैजल संबोधित करेंगे।

उन्होंने कहा कि देश भर और विश्व के मोबिलिटी क्षेत्र में काम करने वाले संगठनों के साथ साझेदारी से मोबिलिटी के संबंध में भारत की रणनीति तैयार करने में मदद मिलेगी। शिखर सम्मेलन से भारत को अन्य देशों में होने वाले विकास से सीखने का भी अवसर मिलेगा। सम्मेलन में भाग लेने वालों में दुनिया भर के मोबिलिटी क्षेत्र के दिग्गज शामिल हैं। इनमें ओईएम, बैटरी निर्माता, चार्जिंग अवसंरचना प्रदाता, प्रौद्योगिकी सॉल्यूशन प्रदाता, भारत सरकार और विदेशों के प्रतिनिधि, विभिन्न अंतर-सरकारी संगठन, अकादमिक जगत और पॉलिसी थिंक-टैंक शामिल हैं।

उन्होंने कहा कि महिंद्रा इलेक्ट्रिक, हीरो साइकिल्स, टाटा मोटर्स, टाटा पावर, ओला, मारुति सुजुकी, होंडा, टोयोटा, बॉश, सन मोबिलिटी और अन्य कंपनियां डिजिटल प्रदर्शनी लगा रही हैं जिसमें अत्याधुनिक मोबिलिटी प्रौद्योगिकी का प्रदर्शन किया जायेगा।