प्रियंका वाड्रा की गिरफ्तारी खेदजनक : राहुल गांधी

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे चुके राहुल गांधी ने पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा की गिरफ्तारी को अवैध तथा दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए आरोप लगाया है कि उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार मनमानी पर उतर आई है और सत्ता का दुरुपयोग कर रही है।

गांधी ने शुक्रवार को ट्वीट किया कि उत्तर प्रदेश के सोनभद्र में प्रियंका की अवैध गिरफ्तारी खेदजनक है। सोनभद्र में अपनी जमीन खाली करने से मना करने वाले किसानों की गोली मारकर निर्मम हत्या की गई थी और पीडित परिजनों से मिलने जाते समय उन्हें गिरफ्तार करना सत्ता की शक्ति का दुरुपयोग है। इससे साबित होता है कि उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार में असुरक्षा बढ रही है।

कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने भी एक बयान जारी कर वाड्रा की गिरफ्तारी पर क्षोभ व्यक्त किया है और इस कार्रवाई को उत्तर प्रदेश सरकार की मनमानी करार देेते हुए उनकी रिहाई की मांग की है।

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार देश की जनता के साथ अभ्रदता से पेश आ रही है और अन्याय कर रही हूं। पार्टी वाड्रा के साथ किए गए व्यवहार की निंदा करती है और इसके खिलाफ देशव्यापी आंदोलन करेगी।

पार्टी ने अपने आधिकारिक पेज पर इस संबंध में ट्वीट किया और कहा कि सोनभद्र हत्याकांड के पीड़ितों से मिलने जा रही कांग्रेस महासचिव की गिरफ्तारी उतर प्रदेश सरकार की तानाशाही का निकृष्टतम उदाहरण है।

हम पीड़ितों को न्याय दिलाने के लिए दृढ संकल्पित हैं और भाजपा सरकार के इन ओछे हथकंडों से डरने वाले नहीं हैं। कांग्रेस महासचिव को सोनभद्र जाने से जबरन रोकना लोकशाही का अपमान है। बगैर लिखित आदेश और संविधान की मूल भावना के विपरीत सरकार का यह कदम तानाशाही को दर्शाता है।

गौरतलब है कि सोनभद्र में 17 जुलाई को गांव के प्रधान ने जमीनी विवाद में गोली चलाई थी जिसमें दस किसान मारे गए और 28 घायल हो गए थे। वाड्रा इन्हीं किसानों के पीडित परिजनों से मिलने जा रही थीं।