क्राइस्टचर्च मस्जिद हमले का बदला थे श्रीलंका में विस्फोट: रक्षा मंत्री रुवान विजेवर्देने

कोलंबो। श्रीलंका में रविवार को ईस्टर के दिन हुए हमले की शुरुआती जांच में खुलासा हुआ है कि ये हमले न्यूजीलैंड में क्राइस्टचर्च की मस्जिदों में मुसलमानों पर हुए हमले का बदला लेने के लिए किये गये थे। ये हमले आतंकवादी संगठन नेशनल तौहीद जमात (एनटीजी) ने किए थे। रक्षा मंत्री रुवान विजेवर्देने ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

विजेवर्देने ने संसद में विशेष उल्लेख के दौरान कहा कि हमले के लिए जिम्मेदार समूह अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी संगठन जेएमआई से संबद्ध है। उन्होंने बताया कि शुरुआती जांच से खुलासा हुआ है कि आतंकवादियों ने न्यूजीलैंड में क्राइस्टचर्च की मस्जिदों में नमाज के वक्त मुसलमानों पर किए गए हमले का बदला लेने के लिए श्रीलंका में गिरजाघरों और लक्जरी होटलों को निशाना बनाया। उन्हाेंने बड़ी संख्या में लोगों को प्रभावित करने के मकसद से हमले के लिए ईस्टर का दिन चुना।

रक्षा मंत्री ने कहा कि सरकार को इस तरह के संगठनों पर प्रतिबंध लगाने के लिए तत्काल कदम उठाने के साथ यह सुनिश्चित करना चाहिए कि हमलावरों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई हो। हमलावरों की संपत्ति जब्त करने के लिए भी कदम उठाए जाने चाहिए।

गौरतलब है कि श्रीलंका में गिरजाघरों और लक्जरी होटलों को निशाना बनाकर किये गये अब तक के सबसे बड़े आतंकवादी हमले में 321 लोग मारे गये और 500 से अधिक लोग घायल हो गए।