नकदी की समस्या जल्दी ही दूर कर दी जाएगी : अरुण जेटली

Problem Of Cash Crunch Is Temporary says Finance Minister Arun Jaitley

नई दिल्ली। सरकार ने देश के कुछ हिस्सों में नकदी को लेकर आ रही दिक्कतों के जल्द ही दूर होने का आश्वासन देते हुये आज कहा कि पिछले तीन महीने में नकदी की मांग में भारी तेजी आई है और चालू महीने के पहले 13 दिन में 45 हजार करोड़ रुपए की नकदी की आपूर्ति की गई है।

देश के कई हिस्सों में बैंकों में नकदी की तंगी और एटीएम के खाली होने की शिकायतों के मद्देनजर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने मंगलवार को कहा कि करेंसी नोंटों की स्थिति की समीक्षा की गई है। प्रचलन में और बैंकों के पास पर्याप्त नकदी है। कुछ क्षेत्रों में अचानक आई दिक्कतें जल्द ही दूर कर की जाएंगी।

इसके बाद वित्त मंत्रालय ने जारी बयान में कहा कि सरकार और रिजर्व बैंक ने नकदी की अप्रत्याशित मांग की पूर्ति के लिए सभी आवश्यक कदम उठाए हैं। बढ़ती मांग की पूर्ति के लिए नकदी का पर्याप्त भंडार है और जिन एटीएम में नकदी की कमी है, वहां जल्द ही इसकी आपूर्ति की जाएगी।

इसमें कहा गया है कि देश के कुछ राज्यों विशेषकर आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक, मध्य प्रदेश और बिहार में नकदी की मांग में जबदरस्त तेजी देखी गई है। पिछले तीन महीने में नकदी की मांग अप्रत्याशित तरीके से बढ़ी है। चालू महीने में 45 हजार करोड़ रुपए की नकदी की पूर्ति की गई है।

सरकार और रिजर्व बैंक ने इस मांग की पूर्ति के लिए हर संभव कदम उठाए हैं। करेंसी नोट का पर्याप्त भंडार है जिसका असाधारण मांग की पूर्ति के लिए उपयोग किया जा रहा है। सरकार ने कहा कि 500, 200 और 100 रुपए के करेंसी नोट के पर्याप्त भंडार हैं जो किसी भी मांग की पूर्ति कर सकते हैं।

सरकार ने नकदी की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करने का आश्वासन देते हुए कहा है कि एटीएम में करेंसी नोट आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए हर संभव कदम उठाए जा रहे ताकि अब तक की मांग पूरी की जा सके।

इसके साथ ही आने वाले दिनों में नकदी की मांग बढ़ने के बावजूद पर्याप्त करेंसी नोट की आपूर्ति का भी वादा किया गया है। वित्त मंत्रालय ने कहा है कि जो एटीएम काम नहीं कर रहें वे भी शीघ्र ही सुचारू रूप से काम करने लगेंगे।

इससे पहले केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री एसपी शुक्ला ने कहा कि हमारे पास इस समय एक लाख 25 हजार करोड़ की नकदी है। कुछ राज्यों में नकदी की कमी है तो कुछ में यह अधिक है।

सरकार ने राज्यवार समितियों का गठन किया है और रिजर्व बैंक ने भी एक राज्य से दूसरे राज्य को नकदी हस्तांतिरत करने के लिए समिति गठित की है। यह कार्य तीन दिन में पूरा हो जाएगा।

देश के कई हिस्सों में बैंकों के पास नकदी की दिक्कत है। एटीएम में पैसा नहीं होने से लोगों को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। वैवाहिक सीजन होने की वजह से भी लोगों के समक्ष काफी कठिनाई आ रही है।

सरकार ने नकदी की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करने का आश्वासन देते हुए कहा है कि एटीएम में करेंसी नोट आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए हर संभव कदम उठाये जा रहे ताकि अब तक की मांग पूरी की जा सके। इसके साथ ही आने वाले दिनों में नकदी की मांग बढ़ने के बावजूद पर्याप्त करेंसी नोट की आपूर्ति का भी वादा किया गया है। वित्त मंत्रालय ने कहा है कि जो एटीएम काम नहीं कर रहें वे भी शीघ्र ही सुचारू रूप से काम करने लगेंगे।

इससे पहले केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री एसपी शुक्ला ने कहा कि हमारे पास इस समय एक लाख 25 हजार करोड़ की नकदी है। कुछ राज्यों में नकदी की कमी है तो कुछ में यह अधिक है। सरकार ने राज्यवार समितियों का गठन किया है और रिजर्व बैंक ने भी एक राज्य से दूसरे राज्य को नकदी हस्तांतिरत करने के लिए समिति गठित की है। यह कार्य तीन दिन में पूरा हो जाएगा।

देश के कई हिस्सों में बैंकों के पास नकदी की दिक्कत है। एटीएम में पैसा नहीं होने से लोगों को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। वैवाहिक सीजन होने की वजह से भी लोगों के समक्ष काफी कठिनाई आ रही है।