बीमार बेटे को ठीक करने का झांसा देकर बाबा ने लूटी महिला की अस्मत

मुंबई। मुंबई पुलिस ने उज्जैन के एक बाबा के खिलाफ 41 वर्षीय महिला के साथ बलात्कार और 3.5 लाख रुपए की ठगी का मामला दर्ज किया है। पुलिस सूत्रों के अनुसार मामला दर्ज करने के बाद स्थानीय ट्रांबे पुलिस बाबा को पकड़ने के लिए बुधवार को मध्य प्रदेश रवाना हो गई।

पिछले वर्ष इस दंपती के 10 वर्षीय पुत्र का कैंसर की बीमारी के कारण निधन हो गया। पीड़िता महिला का पति वैज्ञानिक है और पीड़िता भी शिक्षित है। दंपति उपनगर चेंबूर में रहते हैं।

दंपती ने एकलौते पुत्र को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती किया था लेकिन वहां के इलाज से वे संतुष्ट नहीं थे। मई 2017 में लड़के की मां एक मंदिर में बाबा से मिली और इलाज की बात की जिस पर बाबा ने धार्मिक रीति से बच्चे को ठीक करने का आश्वासन दिया।

कुछ दिन बाद बाबा महिला के घर आया और एक यज्ञ किया और बाबा ने मां और पुत्र को कुछ राख खाने के लिए दिया जिसे खाने के बाद दोनों बेहोश हो गए और जब कुछ देर बाद दोनों को होश आया तो देखा बाबा वहीं मौजूद था।

बाबा ने महिला को बताया कि यज्ञ पूरा हो गया और अब आपका लड़का ठीक हो गया है और इसके बाद बाबा ने 60 हजार रुपए मूल्य का आभूषण लिया और घर से चला गया।

आरोपी ने कुछ दिन बाद दोबारा महिला से संपर्क किया और बताया कि उसके लड़के में कुछ और बीमारियां हैं। आरोपी ने महिला को पश्चिमी उपनगर अंधेरी में अपने घर में बुलाया और जब महिला वहां पहुंची तो बाबा ने महिला का यौन शोषण किया और बताया कि धार्मिक अनुष्ठान का भाग है। आरोपी बाबा ने इस कृत्य को अपने मोबाइल फोन पर रिकार्ड कर लिया और कुछ फोटो भी ली।

इसके बाद आरोपी बाबा महिला को परेशान करना शुरू कर दिया और महिला से रुपए ऐंठने लगा। घबरायी हुयी महिला ने अपने पति से सारी बातें छुपा रखी थी। इसके पश्चात आरोपी बाबा ने महिला के पति से धार्मिक अनुष्ठान के लिए 2.98 लाख रुपए लिए।

पिछले वर्ष 10 वर्षीय लड़के की मौत के बाद भी बाबा दंपती से रुपए लेते रहा। महिला इस तरह की परेशानी से दुखी हो कर अपने पति से सारी बातें बता दी और दंपती ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई।