राहुल बाबा और प्रियंका वाड्रा बताएं कि कांग्रेस राममंदिर चाहती है या नहीं : अमित शाह

Rahul Baba and Mrs Vadra should say whether Congress was in favour of ram temple in ayodhya or not : amit shah

गोधरा। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने आज कहा कि अयोध्या मेें राम मंदिर निर्माण के मामले मेें उनकी पार्टी को कोई भ्रम नहीं है और इसका स्पष्ट मानना है कि जहां भगवान राम का जन्म हुआ था वहां जल्द से जल्द और भव्य मंदिर बनना चाहिए।

उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा पर इस मामले में हमला बोलते हुए कहा कि उन दोनों को भी यह साफ करना चाहिए कि मंदिर निर्माण के लिए उनकी पार्टी तैयार है अथवा नहीं।

शाह ने आज यहां गुजरात की तीन लोकसभा सीटों पंचमहाल, दाहोद और छोटा उदेपुर के भाजपा कार्यकर्ताओं के सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि देश के करोडों लोग चाहते हैं कि अयोध्या में राममंदिर बनना चाहिए। भाजपा की नीति स्पष्ट है कि जल्द से जल्द श्रीराम का भव्य मंदिर बने। पालनपुर अधिवेशन में भाजपा ने इसके प्रति वचनबद्धता जताई थी।

उन्होंने आरोप लगाया कि लेकिन कांग्रेस पार्टी अदालत में चल रहे मंदिर मामले को कपिल सिब्बल और अभिषेक मनु सिंघवी जैसे अपने लोगों को लगाकर इसे टालने में लगी है। वे जज से इसकी सुनवाई 2019 के बाद करने को कहते हैं। जज पर महाभियोग लगाने का प्रयास कर दबाव भी बनाया जाता है।

शाह ने कहा कि कांग्रेस सरकार की ओर से वर्ष 1993 में रामजन्मभूमि न्यास की 42 एकड़ भूमि अधिग्रहित कर ली गई थी जिसे हमारी सरकार ने उन्हें वापस कर दिया है और इस मामले में अदालत में भी अपना पक्ष रखा है। भाजपा को इस मामले में कोई भ्रम नहीं है। हमारा विचार है कि जहां अयोध्या में भगवान राम का जन्म हुआ वहां भव्य से भव्य मंदिर बनना चाहिए और जल्द बनना चाहिए।

उन्होंने अपने खास लहजे में कहा कि हम तो स्पष्ट कर चुके हैं कि अयोध्या में राम जन्मभूमि मंदिर बने पर अब जरा राहुल बाबा और प्रियंका वाड्रा जवाब दें कि वहां मदिर के लिए कांग्रेस पार्टी तैयार है कि नहीं। हमने तो कह दिया कि वहां भव्य राममंदिर बनना चाहिए अब आप अपने विचार तो व्यक्त करो।