जनता से जुड़े मुद्दों पर कुछ नहीं बोलते प्रधानमंत्री मोदी: राहुल गांधी

rahul dgandi speech on pm modi agenst on barat bandh
rahul dgandi speech on pm modi agenst on barat bandh

नयी दिल्ली । कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला करते हुए सोमवार को कहा कि वह लगातार बोलते रहते हैं और देश उनके भाषणों से तंग आ गया है लेकिन आम नागरिक अपनी पीड़ा से जुड़े जिन मुद्दों पर उनसे सुनना चाहता है उस पर वह खामोश रहते हैं।

गांधी ने पेट्रोल और डीजल की आसमान छूती कीमतों के विरोध में कांग्रेस के ‘भारत बंद’ के दौरान सोमवार को यहां रामलीला मैदान में आयोजित धरना प्रदर्शन को संबोधित करते हुए कहा कि मोदी शासन में देश को बांटने का काम हो रहा है और जनता से जुड़े सवालों का जवाब देने के लिए कोई तैयार नहीं है। मोदी सरकार में किसान, गरीब, युवा, सब परेशान हैं और सिर्फ 15-20 बड़े उद्योगपति मित्रों को रास्ता दिखाया जा रहा है। परेशान किसान अगर बैंकों से कर्ज मांगता है तो उन्हें कर्ज नहीं दिया जाता लेकिन मोदी के चहेते एक उद्योगपति को आसानी से बैंकों से 45 हजार करोड़ रुपए का कर्ज मिल जाता है।

उन्होंने कहा कि सरकार में आने से पहले मोदी ने पूरे देश में घूमते थे और कहते थे कि पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ रहे हैं, लेकिन आज बेतहाशा बढ़ रही तेल की कीमतों पर वह एक शब्द नहीं कहते हैं। तब वह रुपये में गिरावट को लेकर सरकार पर तीखा हमला करते थे लेकिन आज डॉलर के मुकाबले रुपया लगातार गिर रहा है और इतना नीचे चला गया है कि 70 साल में इससे पहले यह इतना कमजोर कभी नहीं रहा लेकिन श्री मोदी इस पर एक भी शब्द बोलने के लिए तैयार नहीं हैं।

गांधी ने कहा कि मोदी किसी भी विषय पर कुछ नहीं बोलते हैं। संसद में जब राफेल विमान सौदे को लेकर सवाल किए जाते हैं, तो प्रधानमंत्री जवाब नहीं देते हैं। महिलाओं के साथ बलात्कार हाेता है और भारतीय जनता पार्टी विधायक उसमें शामिल होते हैं, तब भी प्रधानमंत्री कुछ नहीं कहते। उन्होंने आरोप लगाया कि जनता से जुड़े सवालों का जवाब देने की बजाय श्री मोदी और उनकी सरकार देश को जाति,धर्म, क्षेत्र के नाम पर बांटने का काम कर रही है और उसकी इस नीति की वजह से जगह-जगह हिंसा हो रही है।