पोंजी कंपनी में निवेश के झांसे में फंसे राहुल द्रविड़

Rahul Dravid files police complaint against Bengaluru firm over Ponzi scheme
Rahul Dravid files police complaint against Bengaluru firm over Ponzi scheme

बेंगलुरू। पूर्व भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ ने बेंगलुरू स्थित एक पोंजी फर्म के खिलाफ उनके निवेश की बड़ी राशि वापिस नहीं करने के मामले में पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है।

द्रविड़ ने 12 मार्च को विक्रम इन्वेस्टमेंट नामक कंपनी के खिलाफ इंदिरानगर पुलिस में यह शिकायत की है। पूर्व क्रिकेटर और युवा भारतीय टीम के कोच ने बताया कि उन्होंने इस कंपनी में करीब 20 करोड़ रूपए का निवेश किया था लेकिन उन्हें कंपनी ने 16 करोड़ रूपए ही वापिस किये हैं जबकि चार करोड़ रूपए निवेश की राशि अभी भी देना बाकी है।

भारतीय क्रिकेटर की इस शिकायत को बनाशंकरी पुलिस थाने में स्थानांतरित किया गया है जो मामले की जांच कर रही है। माना जा रहा है कि इस पोंजी कंपनी ने करीब 500 करोड़ रूपए का घोटाला किया है।

इससे पहले बेंगलुरू पुलिस ने इस कंपनी के मालिक राघवेंद्र श्रीनाथ और उनके एजेंट तथा खेल पत्रकार सुतराम सुरेश, नरसिम्हनमूर्ति, केसी नागराज और प्रहलाद को भी निवेश के नाम पर करीब 800 लोगों के साथ धोखाधड़ी करने के आरोप में गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने बताया कि खेल पत्रकार होने के नाते सुरेश कई बड़े खिलाड़ियों से काफी करीब थे और उन्होंने द्रविड़ के अलावा सायना नेहवाल और पूर्व बैडमिंटन खिलाड़ी प्रकाश पादुकोण जैसी हस्तियों को इस स्कीम में पैसे निवेश करने के लिए संपर्क किया था। इन सभी आरोपियों को 14 दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है। पोंजी स्कीम में निवेश करने पर लोगों को 40 फीसदी तक लाभ का आश्वासन दिया गया था।