राहुल गांधी को ‘गब्बर सिंह टैक्स’ कैम्ब्रिज एनालिटिका ने सिखाया!

union law minister ravi shankar prasad
union law minister ravi shankar prasad

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी ने मंगलवार को दावा किया कि डाटा माइनिंग करने वाली विवादास्पद कंपनी कैम्ब्रिज एनालिटिका के व्हिसिल ब्लोअर ने पुष्टि कर दी है कि कांग्रेस पार्टी ने इस कंपनी की सेवाएं लीं हैं। पार्टी ने मांग की कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी झूठ बोलने एवं देश को गुमराह करने के लिए माफी मांगें।

भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि एक महत्वपूर्ण घटनाक्रम में कैम्ब्रिज एनालिटिका के क्रिस्टोफर विली ने आज इस बात की पुष्टि कर दी कि इस कंपनी ने कांग्रेस के लिए काम किया है।

प्रसाद ने कहा कि गुजरात में गांधी का आक्रामक रुख एवं जीएसटी का गब्बर सिंह टैक्स कहना इसी कंपनी की छाप थी। उन्होंने कांग्रेस से पूछा कि यह कंपनी हर अवांछित हथकंडे का इस्तेमाल करती है जिनमें वेश्याओं का इस्तेमाल शामिल है। कांग्रेस को बताना चाहिए कि क्या भारत में भी ऐसा ही किया गया था।

उन्होंने कहा कि इस खुलासे से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की पोल खुल गई है कि वे इससे इन्कार करके देश का ध्यान भटकाने का काम कर रहे थे। लिहाजा कांग्रेस पार्टी एवं गांधी को देश से झूठ बोलने, मतदाताओं को अवांछनीय ढंग से प्रभावित करने के लिए माफी मांगनी चाहिए।

प्रसाद ने कहा कि कैम्ब्रिज एनालिटिका मतदाताओं के व्यवहार को प्रभावित करती है और ब्रिटेन एवं अमरीका में उसके खिलाफ जांच चल रही है। कंपनी ने कबूल किया है कि भारत में कांग्रेस पार्टी उसके माध्यम से अवांछनीय ढंग से प्रभावित करने का प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि अक्टूबर 2017 में एक प्रतिष्ठित अखबार में खबर छपी थी कि कांग्रेस को कैम्ब्रिज एनालिटिका के रूप में एक ब्रह्मास्त्र मिल गया है।

उन्होंने कहा कि पूरे मामले के खुलासे से यह बिल्कुल साफ हो गया है कि कांग्रेस ने गुजरात में इसी कंपनी की सेवाएं लीं थीं। अचानक से उनका अाक्रामक होना और जीएसटी के लिए गब्बर सिंह टैक्स के जुमले बोलना कैम्ब्रिज एनालिटिका की छाप का प्रमाण है। उन्होंने कहा कि हताश एवं निराश कांग्रेस ने वोटरों को प्रभावित करने के लिए अवांछनीय प्रयास शुरू कर दिए हैं।