कुछ दिनों की मेहमान रह गयी है मोदी सरकार: राहुल गांधी

Verified Apps to watch T20 World Cup 2022 Live Stream
Rahul Gandhi Tire Attack on pm modi few days Modi govt
Rahul Gandhi Tire Attack on pm modi few days Modi govt

नयी दिल्ली । कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर तीखा हमला करते हुए शनिवार को कहा कि उन्होंने पांच साल में देश की अर्थव्यवस्था को बर्बाद किया है,भ्रष्टाचार को पनाह दिया है और किसान, युवा तथा महिलाओं की अनदेखी की है,इसलिए देश की जनता ने उन्हें सत्ता से बाहर का रास्ता दिखाने का मन बना लिया है।

गांधी ने कांग्रेस मुख्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि भारतीय जनता पार्टी चुनाव हार रही है और मोदी के चेहरे पर आधा चुनाव संपन्न होने के बाद यह अब स्पष्ट दिखाई दे रहा है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने देश की जनता को पीड़ा दी है ,समाज को बांटने का काम किया है और विश्वमंच पर देश की छवि को खराब किया है ,इसलिए देश की जनता उन्हें सबक सिखाने जा रही है। उनकी सरकार चंद दिनों की मेहमान रह गयी है।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि मोदी और आरएसएस के काम करने का तरीका नीति आयोग, चुनाव आयोग ,रिजर्व बैंक तथा उच्चतम न्यायालय जैसी संवैधानिक संस्थाओं पर दबाव बनाकर काम करने का है। चुनाव आयोग भी उनके काम करने के इसी तरीके से प्रभावित नजर आ रहा है और इस वजह से अपनी जिम्मेदारियों के प्रति कमजोर दिख रहा है।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा जब मोदी को एहसास होता है कि वह चुनाव हार रहे हैं तो इसकी स्पष्ट झलक उनके चेहरे पर दिखने लगती है और फिर वह पूरी व्यवस्था को बर्बाद करने से हिचकते नहीं हैं। उन्होंने कहा कि यह बात वह पिछले चुनावों में मोदी को मिली हार के अनुभव के आधार पर कह रहे हैं। सामने हार देखकर वह कुछ न कुछ नया करने की कोशिश करके मतदाताओं काे प्रभावित करने का प्रयास करते हैं। गुजरात में हार रहे थे तो वहां सीप्लेन जैसा नया काम कर लोगों को प्रभावित करने का प्रयास किया।

गांधी ने प्रधानमंत्री पर सेना के राजनीतिकरण का आरोप लगाया और कहा कि मोदी सेना को अपनी निजी संपत्ति समझते हैं। सेना किसी कि निजी संपत्ति नहीं है। प्रधानमंत्री तीनों सेनाओं को अपनी प्राॅपर्टी समझते हैं और सेना का अपमान करते हैं। उन्होंने कहा कि सेना ने अपना काम किया है और वह किसी व्यक्ति की नहीं बल्कि देश की है, इसलिए प्रधानमंत्री को उसका राजनीतिकरण नहीं करना चाहिए और सेना का सम्मान करना चाहिए।

उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री ने देश के युवाओं का रोजगार छीना है और नोटबंदी तथा जीएसटी को लागू कर देश के कारोबारियों को बर्बाद किया है। उन्होंने कमजोर आर्थिक नीति के कारण मध्यम वर्ग की कमर तोड़ी है। गांधी ने कहा कि कांग्रेस ने मोदी सरकार द्वारा तबाह की गयी अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए एक नया मॉडल तैयार किया है। कांग्रेस सरकार ने वर्ष 1991 के बाद देश के आर्थिक परिदृश्यों को बदला है और अब उसकी न्याय व्यवस्था देश में नयी आर्थिक क्रांति की शुरूआत करेगा।

गांधी ने कहा कि भाजपा ने हमेशा आतंकवाद से समझौता किया है। जिस मसूद अजहर को अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित करने का श्रेय लेने का प्रयास किया जा रहा है ,उस आतंकवादी को कांग्रेस सरकार ने पकड़कर जेल में डाला था लेकिन भाजपा सरकार ने उसे छुड़ाया और सुरक्षित ठिकाने तक पहुंचाया।

उच्चतम न्यायालय में माफ़ी मांगने को उन्होंने न्यायालय की प्रक्रिया का सम्मान बताया और कहा उन्होंने न्यायालय की प्रक्रिया पर टिप्पणी की थी और यह उनकी गलती थी। गलती का एहसास हुआ तो न्यायालय से माफ़ी मांगी है और इसमें कुछ भी गलत नहीं है। उन्होंने स्पष्ट किया कि यह माफ़ी सिर्फ न्यायलय से मांगी गयी है, किसी और से नहीं। सारा देश कहता है, चौकीदार चोर है।

कांग्रेस अध्यक्ष ने प्रधानमंत्री पर देश की छवि विदेश में ख़राब करने का आरोप लगाया और कहा कि मोदी ने देश की शान को ख़त्म कर दिया है। सब जगह हमारा मजाक उड़या जा रहा है। गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने भ्रष्टाचार किया है। राफेल सौदे में 30 हज़ार करोड़ रुपये का भ्रष्टाचार हुआ है। फ्रान्स के पूर्व राष्ट्रपति ने यह बात कही है। उन्होंने कहा कि उनके खिलाफ यदि भ्रष्टाचार है तो उसकी जाँच हो लेकिन राफेल मामले की भी जाँच होनी चाहिए।