राहुल गांधी ने माता खीरभवानी मंदिर और हजरतबल दरगाह के किए दर्शन

श्रीनगर। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को मध्य कश्मीर के गंदेरबल जिले में माता खीरभवानी मंदिर में पूजा-अर्चना की और श्रीनगर स्थित हजरतबल दरगाह में सिर नवाया।

गांधी ने गंदेरबल में हजरत पीर हैदर बाबा की दरगाह पर भी दुआ की। उनके साथ राज्यसभा में विपक्ष के पूर्व नेता गुलाम नबी आजाद भी थे।

कश्मीर घाटी के दो दिवसीय दौरे पर सोमवार अपराह्न यहां पहुंचे गांधी, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गुलाम अहमद मीर के पुत्र के विवाह समारोह में शामिल हुए, जिसमें उप राज्यपाल मनोज सिन्हा, पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. फारूक अब्दुल्ला और विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं ने भी शिरकत की।

गांधी मंगलवार सुबह निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार श्रीनगर से भारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच करीब साढ़े आठ बजे घाटी में कश्मीरी पंडितों के सबसे पवित्र मंदिर तुलमुल्ला स्थित खीरभवानी मंदिर पहुंचे। वह मंदिर में विशेष पूजा में शामिल हुए। कहा जाता है कि यहां एक जल स्रोत है, जिसका रंग घाटी की स्थिति के अनुसार बदलता है।

गांधी कुछ समय के लिए मंदिर में रहे और उसके बाद पैदल ही हजरत पीर हैदर बाबा की दरगाह के लिए रवाना हो गए। इस दौरान बड़ी संख्या में स्थानीय लोग भी कांग्रेस नेताओं के साथ शामिल हो गए जिसके कारण सुरक्षाकर्मियों को काफी परेशानी उठानी पड़ी।