राजस्थान में ओलावृष्टि के साथ अंधड़ और बारिश से गर्मी से राहत

जयपुर। राजस्थान में मंगलवार को धूलभरी आंधी के साथ हुई ओलावृष्टि से गर्मी से राहत मिली है वहीं किसानों को इससे भारी नुकसान पहुंचने की आशंका है।

राजधानी जयपुर सहित राज्य के सभी स्थानों पर गत रात्रि से ही मौसम में बदलाव आया। दोपहर बाद पूरी तरह आसमान में काले बादल छा गये और अंधेरा हो गया। इस दौरान ओलावृष्टि एवं अंधड़ के साथ हुई बारिश से खेतों में पककर तैयार हुयी गेंहू की फसलों को नुकसान पहुंचा है। अंधड एवं बारिश के चलते राज्य में बड़ी संख्या में पेड़ी पौधों के भी गिरने के समाचार हैं।

उदयपुर जिले के झाडोल कस्बे के सैलाना गांव में बिजली गिरने से एक युवक की मौके पर ही मौत हो गई। यह युवक पड़ोस में रहने वाले साथी युवक से मिलने गया था उसी समय अचानक मौसम ने करवट बदली और आकाश में तेज बिजली कड़कने लगी तथा उस पर बिजली गिर गयी और घटनास्थल पर ही मौत हो गई।

हनुमानगढ़ जिले में रोही करनीसर में गत रात्रि बिजली गिरने से पक्की छत गिर गई जिससे वहां सो रहे एक व्यक्ति की मौत हो गई। एक व्यक्ति घायल हो गया जिसे उपचार के लिये अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

कोटा जिले में भी आधा घंटा मूसलाधार बारिश हुई। क्षेत्र में सुबह से ही अंधेरा छाया रहा, खेतों में बारिश से गेहूं की कटी फसलों को नुकसान पहुंचा है।

माउंटआबू में भी बादल छाए रहे। बूंदाबादी होने से तापमान में गिरावट आई। यहां अधिकतम तापमान 31.0 डिग्री सेल्सियस तो न्यूनतम तापमान हुआ 15.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज। दौसा के कई स्थानों पर बरसात हुई। बांदीकुई में भी हल्की बारिश हुई। सवाईमाधोपुर के कई स्थानों पर आधा घंटे बारिश हुई।

बीकानेर से प्राप्त समाचार के अनुसार बीकानेर में लगातार दूसरे दिन बारिश से लोगों ने गर्मी से राहत महसूस की। मौसम विभाग के अनुसार आने वाले दो दिनों तक ऐसा ही मौसम रहने का अनुमान है। पाकिस्तान की ओर से बढ़े पश्चिमी विक्षोभ से पश्चिमी राजस्थान का मौसम बदल गया है। कल भी कई स्थानों पर तेज हवाओं, धूल भरी आंधी के साथ बारिश एवं बूंदाबांदी हुई।

अलवर के नाहरपुर गांव में अंधड़ के दौरान बिजली के शाटॅसर्किट से कई घरों में उपकरण जल गए। इसी तरह अजमेर में भी तेज हवा के साथ बारिश होने से तापमान में खासी गिरावट आई और सर्दी का अहसास होने लगा।

भीलवाड़ा में बिजली गिरने से दो बच्चों की मौत की सूचना है। श्रीगंगानगर जिले में भारी ओलावृष्टि से सड़कों और खेतों में बर्फ की सफेद चादर बिछ गई। फसलों को भारी नुकसान पहुंचा है। जिले के श्रीविजयनगर,घड़साना और अनूपगढ़ इलाकों में भारी ओलावृष्टि की सूचना है।