राजा भैया ने किया नये दल के गठन का बड़ा एेलान

लखनऊ 16 नवम्बर :- लोकसभा चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी (सपा) विधायक शिवपाल सिंह यादव द्वारा नये दल के गठन के बाद निर्दलीय विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया ने शुक्रवार को नई राजनीतिक पार्टी बनाने का विधिवत एेलान कर दिया।

प्रतापगढ़ के कुंडा से पिछले लगातार पांच चुनाव से निर्दलीय विधायक के रूप में सदन में पहुंचने वाले पूर्व मंत्री रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया ने पत्रकारों के एक सम्मेलन में अपनी इस मंशा का इजहार किया।

राजा भैया ने कहा “ हमें प्रदेश भर से लोगों का बेहतर समर्थन मिल रहा है। चुनाव आयोग से जुड़ी औपचारिकताएं पूरी होने पर पार्टी की कार्यकारिणी का गठन किया जाएगा। हम जनता के मुद्दों को उठाएंगे। नई पार्टी के लिये चुनाव आयोग को तीन नाम भेजे गये हैं। ”

विधायक के तौर पर पिछले ढाई दशक से कार्यरत राजा भैया ने कहा कि दलित और गैर दलित के बीच मिलने वाली सरकारी सुविधाओं में भेदभाव हो रहा है, जिसका हम विरोध करेंगे। कुछ मुद्दे ऐसे हैं जिसपर सियासी पार्टियां सदन और बाहर कहीं भी नहीं बोलते।

लखनऊ में 30 नवंबर को अपनी पार्टी की रैली की तैयारी में लगे निर्दलीय विधायक ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुये कहा कि संसद में एससी-एसटी एक्ट में संशोधन न्यायसंगत नहीं है। पदोन्नति में आरक्षण प्रतिभाओं के साथ अन्याय है। अगर एक बार किसी को आरक्षण का लाभ मिला तो आगे उसको लाभ नहीं मिलना चाहिए। हमारी पार्टी इसके खिलाफ मोर्चा खोलेगी।