कौशल प्रशिक्षण में राजस्थान का फिर परचम, स्कौच अवार्ड जीता

जयपुर। कौशल प्रशिक्षण के क्षेत्र में अव्वल राजस्थान ने एक बार फिर इस क्षेत्र में स्कौच अवार्ड जीतकर अपना परचम लहराया है।

ऎसोचैम एवं मिनिस्ट्री ऑफ स्किल डवलपमेंट एंड एंटरप्रेन्योरशिप (एमएसडीई) द्वारा कौशल प्रशिक्षण के क्षेत्र में लगातार तीन वर्षों से सर्वश्रेष्ठ राज्य का पुरस्कार जीतने के बाद कौशल, नियोजन एवं उद्यमिता विभाग ने एक बार फिर नई दिल्ली में आयोजित स्कौच अवार्ड समिट में प्लेटिनम अवार्ड अपने नाम किया है।

राज्य के कौशल नियोजन एवं उद्यमिता मंत्री डॉ. जसवंत सिंह यादव तथा आयुक्त एवं विशिष्ट सचिव एसईई कृष्ण कुणाल ने स्कौच ग्रुप के चेयरमैन समीर कोछर से यह सम्मान ग्रहण किया।

इस अवसर पर डॉ. यादव ने कहा कि प्रदेश के युवाआें को कौशल प्रशिक्षण एवं रोजगार की संभावनाओं से जोड़ने के लिए विभाग ने कई पहल की हैं। पिछले चार वर्षों में विभाग ने प्रदेश में न केवल 6.3 लाख से ज्यादा युवाओं को प्रशिक्षित किया है, बल्कि उन्हें कौशल प्रशिक्षण के कई नए क्षेत्रों जैसे फड़ पैंटिग्स, थेरपेटिक स्पा आदि से भी जोड़ा है।

कुणाल ने कहा कि राजस्थान ने ही देश को उसका प्रथम कौशल विश्वविद्यालय प्रदान किया है। इसी के साथ प्रदेश में निजी कौशल विश्वविद्यालय बीएसडीयू का भी संचालन किया जा रहा है जो कि युवाआें को प्रशिक्षण प्रदान कर रहा है तथा युवाओं को स्विस डुअल सिस्टम के माध्यम से कौशल प्रशिक्षण प्रदान कर रहा है।

उन्होंने कहा कि इसी के साथ प्रदेश कुल 1943 आईटीआई के नेटवर्क के साथ देश में दूसरे स्थान पर है और अब प्रदेश में आईटीआई की क्षमता बढ़कर 3.87 लाख हो गई है। इसी के साथ प्रदेश में जल्द ही नए आईटीआई की स्थापना भी की जाएगी।