मोदी रविवार को अलवर में करेंगे चुनावी सभा को सम्बोधित

PM Modi to address election rally in Alwar on Sunday
PM Modi to address election rally in Alwar on Sunday

अलवर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल राजस्थान में अलवर के विजय नगर में चुनावी सभा को संबोधित करेंगे। यहां उनकी सभा की तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। सुरक्षा व्यवस्था को लेकर सभा स्थल पर बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दी गई है। विशेष सुरक्षा और सतर्कता दस्तों के अधिकारी भी मौके पर मौजूद है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सुबह 11 बजे दिल्ली से हैलीकॉप्टर से विजय नगर पहुंचेंगे और सभा को सम्बोधित करेंगे। मोदी की जनसभा के लिए सभी तैयारियों को अंतिम रुप दिया जा रहा है।

भारतीय जनता पार्टी ने जिले भर से जनसभा में एक लाख लोगो को लाने का लक्ष्य रखा हैं। इसके लिए सभी 11 विधानसभाओं में पार्टी के प्रत्याशियों और पदाधिकारियों को मंडल के अनुसार लक्ष्य दिया गया है।

इधर सभा की तैयारियां का जायजा लेने के लिए रेल मंत्री पीयूष गोयल अलवर पहुँचे और मौके पर जाकर अधिकरियों और पार्टी के पदाधिकारियों से चर्चा की। गोयल ने पत्रकारों को कहा कि राजस्थान में जो विकास किए हैं इसकीं वजह चुनाव भाजपा की सरकार दो तिहाई बहुमत कर साथ बनेगी।

उन्होंने कहा कि चुनाव की विजय का बिगुल अलवर से शुरू होगा। राजस्थान में भाजपा की सरकार बनेगी। जिस तरह से दो इंजन लगाकर ट्रेन को दुगनी रफ्तार एवं शक्ति दी जाती है। उसी तरह से राज्य सरकार और केंद्र सरकार मिलकर राज्य को दुगनी क्षमता से विकास की दौड़ में दौड़ा पाएंगे।

गोयल ने कहा कि भाजपा की सरकार धर्म आधारित राजनीति पर काम नहीं करती जबकि कांग्रेस राजनीति में धर्म का घालमेल करती है, जिस तरह से कर्नाटक और गुजरात में धर्म में जाति के नाम पर राजनीति की गई इस तरह से राजस्थान में संभव नहीं होगा। कांग्रेस भारत माता के जयघोष को रोककर परिवारवाद के चेहरे को दिखती है। यह बड़ी शर्मिंदगी की बात है।

इसलिए यह पार्टी अब केवल 2 राज्यों में सिमट कर रह गई है कांग्रेस के मुख्य इस बार पैराशूट उम्मीदवारों के टिकट काटने की बात कह रहे थे। जबकि अन्य नेता ने कहा कि ऐसा कुछ नहीं है। जगह के हिसाब से उम्मीदवार निर्धारित किए जाएंगे। इसलिए कांग्रेस पार्टी पूरी तरीके से बिखरी हुई है भाजपा कार्यकाल में देशभर में काम हुए हैं।

इधर, सुरक्षा व्यवस्था के लिए एसपीजी और आईबी और राजस्थान पुलिस के उच्च अधिकारियो ने सभा स्थल का जायजा लिया और सभा स्थल का निरीक्षण किया और करीब दो हजार पुलिस के जवान और अधिकरियो की ड्यूटी लगाई गई है।

सभा स्थल पर ड्रोन कैमरे से नजर रखी जा रही है। इसके अलावा आसपास के के करीब एक किलोमीटर क्षेत्र में बाहरी लोगों को प्रवेश नही दिया जा रहा है। शहर में होटल और धर्मशालाओं में निगरानी बढ़ा दी गई है।