कांग्रेस जनविरोधी नीतियों के चलते वह देश के कुछ हिस्सों तक सिमट कर रह गई : पूनियां

जयपुर। राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डा सतीश पूनियां ने कहा है कि एक समय कांग्रेस ने सालों तक देश पर शासन किया लेकिन आज उसकी जनविरोधी नीतियों के चलते वह देश के कुछ हिस्सों तक सिमट कर रह गई है।

डा पूनियां भाजपा प्रदेश मुख्यालय में आयोजित पार्टी की संगठनात्मक बैठक के उद्घाटन सत्र को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस बदल जरूर रही है, लेकिन कांग्रेस सोनिया गांधी से राहुल गांधी और प्रियंका गांधी से होकर रॉबर्ट वाड्रा तक आ सकती है, लेकिन उसके आगे कांग्रेस का कोई भविष्य नहीं है।

उन्होंने कहा कि भारत की धरती पर पैदा होना हमारा परम सौभाग्य है और इस धरती पर पैदा होकर राष्ट्रवाद के विचार भारतीय जनता पार्टी से जुड़ना दूसरा बड़ा सौभाग्य है एवं तीसरा बड़ा सौभाग्य है किसी ना किसी रूप में राजस्थान की सात करोड़ जनता की सेवा करने का अवसर मिलना।

उन्होंने कहा कि भाजपा जहां पहले तीन सीटों पर थी आज वह देश में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कुशल नेतृत्व में प्रचंड बहुमत के साथ 303 सीटों पर काबिज हुईl भाजपा राष्ट्रवाद और देश को आगे बढ़ाने की नीतियों के कारण लगातार आगे बढ़ रही है और आज दुनिया की नंबर वन पार्टी है।

आयोजित हुई, जिसमें प्रदेश पदाधिकारी, मोर्चों के प्रदेश अध्यक्ष, जिला अध्यक्ष, जिला प्रभारी उपस्थित रहे, जिसमें संगठन की मजबूती, जनविरोधी गहलोत सरकार के खिलाफ बड़े आंदोलनों की तैयारी एवं जनहित के विषयों पर विस्तृत चर्चा की गई।

बैठक को प्रदेश संगठन महामंत्री चन्द्रशेखर तथा पार्टी के अन्य नेताओं ने भी संबोधित किया। बैठक में राष्ट्रीय मंत्री डॉ. अलका सिंह गुर्जर, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ. अरुण चतुर्वेदी एवं अशोक परनामी आदि भी मौजूद थे।

बैठक के बाद डॉ. पूनियां ने बताया कि प्रदेश भाजपा कि इस संगठनात्मक बैठक में पार्टी निचले स्तर तक पार्टी की मजबूती के लिए विचार-विमर्श किया गया। खास तौर पर विस्तारक योजना के जरिए पार्टी को सर्वव्यापी और सर्वस्पर्शी बनाए जाने को लेकर चर्चा हुई।

साथ ही पार्टी के लगातार चलने वाले प्रशिक्षण शिविर, सेवा ही समर्पण अभियान और सुंदर सिंह भंडारी जन शताब्दी वर्ष के तहत किए जा रहे कार्यक्रमों की चर्चा भी हुई। बैठक में पार्टी को आर्थिक रूप से स्वावलंबी बनाए रखने के लिए भी आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए।

उन्होंने बताया कि पार्टी की संगठनात्मक बैठक में आगामी दिनों में राजस्थान भाजपा की ओर से हाथ में लिए जाने वाले कार्यक्रमों को लेकर भी आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए। वहीं दो सीटों पर होने वाले उपचुनाव को लेकर भी चर्चा हुई।