सतीश पूनियां ने भाजयुमो के हस्ताक्षर अभियान का किया शुभारंभ

जयपुर। राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डा सतीश पूनियां ने कांग्रेस सरकार के शासन में भर्ती परीक्षाओं में अनियमितता के विरोध एवं युवाओं को बेरोजगारी भत्ते की मांग को लेकर भारतीय युवा मोर्चा के हस्ताक्षर अभियान का आज यहां शुभारंभ किया।

डा पूनियां ने इस अभियान की शुरुआत जयपुर के मानसरोवर से की और कार्यकर्ताओं को संबोधित किया और अभियान को लाखों युवाओं तक ले जाने का आह्वान किया। इस दौरान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष हिमांशु शर्मा, जयपुर शहर जिला अध्यक्ष राघव शर्मा, जयपुर शहर सांसद रामचरण बोहरा, जयपुर शहर युवा मोर्चा जिला अध्यक्ष सुरेन्द्र सिंह आदि मौजूद थे।

इस अवसर पर पूनियां ने कहा कि रीट परीक्षा अनियमितता एवं बेरोजगारी भत्ते की मांग को लेकर आज से हस्ताक्षर अभियान शुरु किया जो अप्रैल और मई तक चलेगा। जिसमें युवा मोर्चा 50 लाख युवाओं के हस्ताक्षर हर मंडल तक जाकर कराएगा। यह एक ऐसा अभियान है जिससे नौजवान जुड़ेंगे और अपनी आवाज को मुखर करेंगे। इससे युवा मोर्चा को विशेष ताकत मिलेगी और वह बेरोजगारों की हक की आवाज उठाने सफल होगा।

उन्होंने कहा कि इस महत्वाकांक्षी अभियान की प्रदेश की राजधानी से शुरुआत हुई जाे हमारे सभी साथी भाजपा के इस बेरोजगारी एजेंडे को लोगों के बीच में लेकर जाएंगे। उन्होंने कहा कि हम लोग आने वले समय में केवल समस्या नहीं, समाधान का जिक्र भी लोगों के बीच जाकर करेंगे। कांग्रेस पार्टी ने नौजवानों को जिस तरह ठगा और छला हैं उसके खिलाफ युवा मोर्चा बड़े आंदोलन की बुनियाद रखेगा।

डा पूनिया ने कहा कि गहलोत सरकार ने अपने घोषणा पत्र में युवाओं के साथ झूठे वादे किए थे और आज प्रदेश में बेरोजगारी चरम सीमा पर पहुंच गई है। प्रदेश की कानून व्यवस्था इस कदर बिगड़ गई है की प्रदेश का हर तबका असुरक्षित महसूस कर रहा है। उन्होंने कार्यकर्त्ताओं का आह्वान करते हुए कहा कि उन्हें इस अभियान को जन जन तक लेकर जाना है और कांग्रेस सरकार की वादाखिलाफी और युवाओं के साथ की गई धोखाधड़ी को उजागर करना है।

इस अवसर पर हिमांशु शर्मा ने कहा कि आज राजस्थान के युवाओं में बेरोजगारी चरम सीमा पर और यह सरकार युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने में पूर्णत विफल रही है। राजस्थान के युवा स्वरोजगार की ओर भी अपना कदम नहीं बढ़ा पा रहे है इसका सबसे प्रमुख कारण राजस्थान की बिगड़ी कानून व्यवस्था है। गहलोत सरकार की बिगड़ी हुई कानून व्यवस्था और हठधर्मिता के कारण केंद्र सरकार की अनेक योजनाओं स्टार्टअप योजना, मुद्रा योजना आदि का राजस्थान में क्रियान्वन नहीं हो पाया है।

शर्मा ने कहा कि आज युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओ को बूथ स्तर तक जाकर ढाणी ढाणी के लोगो तक इस हस्ताक्षर अभियान के तहत हस्ताक्षर करवाने है और गहलोत सरकार की युवाओं के साथ की गई वादाखिलाफी को जन जन तक पहुंचना है।

उन्होंने बताया कि यह अभियान आगामी 31 मई तक चलेगा जिसमें 50 लाख लोगों से हस्ताक्षर कराने का लक्ष्य रखा गया है। यह अभियान तीन चरणों में चलाया जाएगा। प्रथम चरण में बाजारों में, भीड़भाड़ वाले इलाकों में लोगो से हस्ताक्षर कराएंगे जाएंगे।

द्वितीय चरण संस्थागत होगा जिसमें स्कूल, कॉलेज, प्राइवेट कंपनी में जाकर लोगों से हस्ताक्षर कराए जाएंगे। तृतीय चरण चल हस्ताक्षर अभियान होगा जिसमें घर घर जाकर लोगों से हस्ताक्षर कराएंगे जाएंगे।