अनदेखी के चलते राजस्थान को बना दिया महिला अत्याचार, रेप एवं हत्या में सिरमौर : पूनियां

जयपुर। राजस्थान के भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डा सतीश पूनियां ने आरोप लगाते हुए कहा है कि एक कमजोर मुखिया का अस्वस्थ विभाग जिनकी अनदेखी ने प्रदेश को महिला अत्याचार, बलात्कार और हत्या में सिरमौर बना दिया है।

डा पूनियां ने नागौर जिले के पादुकलां में खेत में मासूम बच्ची का शव मिलने के मामले पर आज यह बात कही। उन्होंने कहा कि नागौर के पादुकलां में हुआ यह हादसा भी इसी लापरवाही की बानगी है। उन्होंने पीड़िता के परिजनों के प्रति गहरी संवेदना प्रकट की।

भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने अलवर जिले के बड़ौदामेव थाना क्षेत्र में एक युवक की पीटकर हत्या के मामले में कहा कि राजस्थान में क़ानून व्यवस्था की धज्जियां उड़ रही हैं, अपराधियों के हौसले बुलंद हैं।

बड़ौदामेव थाना क्षेत्र में एक युवक की पीट-पीटकर हत्या कर देना जंगलराज का उदाहरण ही तो है। राजे ने इस मामले की निष्पक्ष जांच, दोषियों को सज़ा एवं मृतक के आश्रितों को आर्थिक सहायता देने की मांग तथा परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की मांग की।

विधानसभा में उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र सिंह राठौड़ ने नागौर में मासूम बालिका के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या की घटना को राज्य सरकार की कानून व्यवस्था के माथे पर कलंक बताया हैं। राठौड़ ने कहा कि प्रदेश में प्रतिदिन दुष्कर्म की क्रूरतम वारदातें सामने आ रही है। एनसीआरबी की ताजा रिपोर्ट में भी राजस्थान दुष्कर्म के मामलों में देश में पहले पायदान पर है।