कानून व्यवस्था नहीं संभल रही है तो गहलोत दे इस्तीफा : सतीश पूनियां

जयपुर। राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डा सतीश पूनियां ने राज्य की कांग्रेस सरकार पर कानून व्यवस्था बनाए रखने में असफल रहने का फिर आरोप लगाते हुए कहा है कि प्रदेश में सांसद जैसे जनप्रतिनिधि भी सुरक्षित नहीं है और कानून व्यवस्था नहीं संभल रही हैं तो मुख्यमंत्री एवं गृह मंत्री अशोक गहलोत को इस्तीफा देना चाहिए।

पूनियां ने भरतपुर सांसद रंजीता कोली के घर पर फायरिंग की घटना के बाद आज यह बात कही। उन्होंने कहा कि राजस्थान की बिगड़ती कानून व्यवस्था के प्रतिदिन अनेक उदाहरण देखने को मिल रहे हैं। सांसद जैसे जनप्रतिनिधियों पर बार बार जानलेवा हमला हो रहा है। भरतपुर सांसद रंजीता कोली के घर पर हमला, आखिर राज्य के गृहमंत्री कब तक सोते रहेंगे, कानून व्यवस्था न सम्भले तो उन्हें इस्तीफा देना चाहिए।

उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र सिंह राठौड़ ने कोली के घर पर फायरिंग की घटना की निंदा करते हुए कहा कि श्रीमती कोली पर गत मई में हुए जानलेवा हमले के बाद पुनः घर पर फायरिंग की घटना निंदनीय है। कुछ दिनों पहले ही पूर्व विधायक अमृता मेघवाल पर भी हमला हुआ। उन्होंने कहा कि राज्य में महिला जनप्रतिनिधि सुरक्षित नहीं है जो जर्जर कानून व्यवस्था का प्रत्यक्ष प्रमाण है। यही कारण है कि महिलाओं के साथ अत्याचार राजस्थान में लगातार बढ़ रहे हैं।

उन्होंने कहा कि एनसीआरबी के मुताबिक महिलाओं के साथ दुष्कर्म में राजस्थान देश में पहले स्थान पर है। साथ ही राज्य में महिलाओं के साथ हत्या, छेड़छाड़ और दहेज प्रताड़ना जैसे मामलों में भी निरंतर बढ़ोतरी हो रही है। कांग्रेस शासन में प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति दिन-प्रतिदिन बिगड़ती जा रही है और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से गृह विभाग की जिम्मेदारी बिल्कुल भी नहीं संभल रही है। उन्होंने राज्य सरकार से मांग की कि बदमाशों को शीघ्र गिरफ्तार किया जाना चाहिए।