राजस्थान में कानून व्यवस्था बिगड़ने से आमजन सुरक्षित नहीं : पूनियां

जयपुर। राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां ने राज्य सरकार पर कानून व्यवस्था बिगड़ जाने का आरोप लगाते हुए कहा है कि मुख्यमंत्री एवं गृहमंत्री अशोक गहलोत का इकबाल खत्म हो गया है, पुलिस का मनोबल गिरा हुआ है, प्रदेश की जनता डरी एवं सहमी हुई है और सड़क पर आमजन सुरक्षित नहीं है।

डॉ. पूनियां ने आज यहां पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि इससे न बहन-बेटियां सुरक्षित हैं और न ही मंदिर में पुजारी सुरक्षित हैं। उन्होंने कहा कि अफसोस इस बात का है कि, मुख्यमंत्री प्रायोजित किस्म की सियासी घटनाओं पर तो माइलेज बटोरने के लिए तुरंत ट्वीट कर देते हैं, मुख्यमंत्री अगर प्रदेश में ही हैं और उनमें थोड़ी भी गैरत हो तो महवा के पुजारी की घटना और प्रदेश की बहन बेटियों के साथ हो रहे दुराचार पर ट्वीट क्यों नहीं करते और उनका नुमाइंदा वहां क्यों नहीं जाता, क्यों नहीं भरोसा देते।

उन्होंने कहा कि कहा कि प्रदेश में केवल यह ही घटनाएं नहीं, बल्कि आसपुर में तीन सगी बहनों के शव सोमकमला अंबा बांध में मिले, वहां भी लोग न्याय के लिये आंदोलन कर रहे हैं, मुख्यमंत्री बताएं कि आदिवासी क्षेत्र में उनके आंसू कौन पोंछेगा।

इससे पहले पूनिया ने ट्वीट कर कहा कि प्रदेश की बिगड़ी कानून व्यवस्था की बानगी देखिए, अब जेल में बंद अपराधी भी मदमस्त होकर वहां से फरार हो रहे हैं और हमारे गृहमंत्री का ध्यान निर्दोष लोगों को सताने में और येन केन प्रकारेण उपचुनाव जितने में लगा हुआ है।