साठ लाख किसान तीन साल से कर रहे कर्जा माफी का इंतजार : सतीश पूनियां

Verified Apps to watch T20 World Cup 2022 Live Stream

राजसमंद। राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां ने कांग्रेस सरकार पर आदिवासी क्षेत्र के प्रति अनदेखी करने का आरोप लगाते हुए कहा है कि आदिवासी किसानों सहित साठ लाख किसान तीन साल से कर्जा माफी का इंतजार कर रहे हैं।

डा पूनियां ने आज पत्रकार वार्ता में कहा कि कांग्रेस ने जो वादा किया था खासतौर पर किसानों की कर्जमाफी का, यह उनके जनघोषणा पत्र में भी है और 2018 में उसके नेता राहुल गांधी ने इस बात का उल्लेख किया कि कांग्रेस पार्टी की सरकार आएगी तो किसानों का सम्पूर्ण कर्जा 10 दिन में माफ करेंगे, लेकिन वादाखिलाफी की गई और आज आदिवासी किसान भी कर्ज में डूबे हैं।

उन्होंने कहा कि उन्हें कई ज्ञापन मिले जो आदिवासी नौजवान रोजगार की मांग कर रहे थे, सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी का सर्वे कहता है कि 27 प्रतिशत से अधिक बेरोजगारी राजस्थान में है, जो देश में सर्वाधिक है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में कहीं भी बहन-बेटियां सुरक्षित नहीं हैं, हाल ही में बूंदी जिले में बच्ची के साथ दुष्कर्म-हत्या का मामला सामने आया है, बाड़मेर जिले में आरटीआई कार्यकर्ता के शरीर में कीलें ठोक दी गईं। इससे स्पष्ट है कि अपराधियों के हौसले तभी बुलंद होते हैं, जब सरकार का इकबाल खत्म हो जाता है। तीन सालों में कांग्रेस सरकार ने शांतिप्रिय राजस्थान को अपराधों की राजधानी बना दिया।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में सबसे महंगी बिजली है, दूसरी ओर पेट्रोल-डीजल पर वैट बढ़ाने से राजस्थान में पड़ोसी राज्यों मध्यप्रदेश, गुजरात, हरियाण, उत्तर प्रदेश आदि राज्यों से महंगा डीजल-पेट्रोल मिल रहा है।

पूनियां 23 से 26 दिसंबर तक चार दिवसीय प्रवास पर चित्तौड़गढ़, डूंगरपुर, बांसवाड़ा, उदयपुर, राजसमंद और भीलवाड़ा जिलों के प्रवास पर रहे, जहां वह जना आक्रोश रैली, आजीवन समर्पण निधि अभियान और जिला कार्यसमिति बैठक कार्यक्रमों में शामिल हुये। उन्होंने रविवार को भाजपा राजसमंद के ‘आजीवन सहयोग निधि’ अभियान का शुभारंभ कर कार्यकर्ताओं के साथ संवाद किया।

इस अवसर पर डॉ. पूनियां के साथ प्रदेश कोषाध्यक्ष रामकुमार भूतड़ा, सांसद दीया कुमारी, प्रदेश महामंत्री सुशील कटारा, पूर्व मंत्री चुन्नी लाल गरासिया, संभाग प्रभारी हेमराज मीणा, जिला अध्यक्ष वीरेंद्र पुरोहित, विधायक दीप्ति माहेश्वरी, आजीवन सहयोग निधि अभियान के संभाग प्रभारी प्रमोद सामर आदि तथा कार्यकर्ता उपस्थित थे।