बजट में आंगनबाड़ी कर्मियों का मानदेय बढ़ाने का भामसं ने किया स्वागत

अजमेर। भारतीय मजदूर संघ राजस्थान प्रदेश ने आंगनबाड़ी कर्मियों का बजट मे मानदेय बढ़ाने पर स्वागत किया है। सरकार की ओर से बजट में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का मानदेय 4730/- से 6000/, मिनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता का 3365/ से 4500/, सहायिका का 2565/ से 3500/, ग्राम साथिन का 2400/ से 3500/, एवं आशा सहयोगिन का 1850/ से 2500/ किया जाना अति अल्प वेतन भोगी कर्मचारियों के प्रति सरकार की संवेदना को दर्शाता है।

साथ ही इन कर्मियों के समूह बीमा प्रीमियम का भुगतान सरकार द्वारा किए जाने की घोषणा सामाजिक सुरक्षा के प्रति राज्य सरकार का एक महत्व पूर्ण कदम है।

80 वर्ष से अधिक की आयु वाले वरिष्ठ जनों को रोडवेज में निःशुल्क यात्रा के अलावा उनके साथ एक सहयात्री का आधा किराया किया जाना वरिष्ठजनों के प्रति सरकार के सम्मान का भारतीय मजदूर संघ, राजस्थान प्रदेष स्वागत करता ळें

गौरतलब है कि भारतीय मजदूर संघ का एक प्रतिनिधि मण्डल 09 फरवरी 2018 को मुख्यमंत्री से मिला था, जिसमे प्रतिनिधि मण्डल ने आंगनबाड़ी कर्मियों को न्यूनतम वेतन देने, ग्रेच्युटी व पेंशन देने की मांग की थी, साथ ही विद्युत् में तकनीकी कर्मचारियों को 2400/ का ग्रेड पे देने, पीपीपी माॅडल रोकने, परिवहन में बोनस, डीए देने व सातवां वेतन लागू करने, जलदाय में वेतन विसंगतियों को ठीक किए जाने, पदोन्नति किए जाने की मांग की थी, जिनके बारे में बजट में कोई उल्लेख नहीं किया गया है।

भारतीय मजदूर संघ मांग करता है कि उक्त मांगों के अलावा असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के लिए सामाजिक सुरक्षा व रोजगार वृद्धि हेतु भी बजट में प्रावधान किया जाए।