राजस्थान उपचुनाव : कांग्रेस की जीत से जश्न में डूबे कार्यकर्ता

Rajasthan by-election result 2018 : Counting of votes for Ajmer, Alwar and mandalgarh
Rajasthan by-election result 2018 : Counting of votes for Ajmer, Alwar and mandalgarh

जयपुर। केंद्र की भाजपा सरकार का बजट पेश होने के दिन कांग्रेस ने शानदार प्रदर्शन करते हुए गुरुवार को राजस्थान की मंडलगढ़ विधानसभा सीट भाजपा से छीन ली और राज्य की अजमेर व अलवर लोकसभा सीटों पर बडे अंतर से आगे चल रही है।

इस जीत को लेकर विपक्षी पार्टी में जश्न शुरू हो गया है। इससे साबित हो गया कि ‘घर घर मोदी’ का तिलिस्म अब टूट रहा है। कांग्रेस पार्टी के दफ्तर के बाहर सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ताओं ने पटाखे जलाए और ढोल-नगाड़े की धुनों पर नाचते नजर आए।

मांडलगढ विधानसभा सीट से कांग्रेस के उम्मीदवार विवेक धाकड़ ने भारतीय जनता पार्टी के शक्ति सिंह हाडा को 12,976 वोटों से हराया। इस जीत को लेकर मिठाइयां बांटी गईं।

निर्वाचन आयोग के अधिकारियों ने कहा कि 29 जनवरी को हुए उपचुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार धाकड़ को 70,146 वोट मिले, जबकि हाडा को 57,170 वोट मिले।

यह चुनाव भाजपा विधायक कीर्ति कुमारी की बीते साल अगस्त में स्वाइन फ्लू की वजह से निधन के कारण खाली हुई सीट पर कराया गया।

अजमेर लोकसभा सीट की 61 फीसदी मतगणना हो चुकी है। कांग्रेस के रघु शर्मा 391,754 वोटों के साथ 77,868 वोटों से आगे चल रहे हैं। भाजपा के राम स्वरूप लांबा को 313,706 वोट मिले हैं।

अलवर लोकसभा सीट की 82 फीसदी मतगणना हो चुकी है, कांग्रेस के करण सिंह यादव 144,914 वोटों से आगे चल रहे हैं। करण सिंह को 520,434 वोट मिले हैं, उन्होंने भाजपा के जसवंत सिंह यादव को 375,520 मतों के साथ पीछे छोड़ दिया है।

कांग्रेस के उम्मीदवार लोकसभा सीटों पर मतगणना में शुरू से ही आगे रहे, जब िमंडलगढ़ विधानसभा सीट पर शुरू में पीछे रहने के बाद में जीत हासिल कर ली।

तीन सीटों पर कुल 42 उम्मीदवार मैदान में थे। ये सभी सीटें भाजपा के पास थीं। अजमेर सीट पर 23 व अलवर में 11 उम्मीदवार मुकाबले में थे। अजमेर सीट से भाजपा सांसद सांवरलाल जाट और अलवर से सांसद महंत चांदनाथ योगी निधन के कारण इन सीटों पर उपचुनाव हुए हैं।

अजमेर चुनाव परिणाम : कडी सुरक्षा के बीच वोटों की गिनती जारी

राज्य में इसी साल के अंत में विधानसभा चुनाव होना है, इसलिए इस चुनाव को सेमीफाइनल माना जा रहा था। वसुंधरा राजे के राज में भाजपा को हो रहे नुकसान से कांग्रेस उत्साहित है। पार्टी नेताओं ने कहा कि मतदाताओं ने धर्मनिरपेक्ष देश में धर्म की राजनीति करने वाली भाजपा को अस्वीकार कर दिया है।

कांग्रेस नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री सचिन पायलट ने कहा कि ताजा चुनाव नतीजों को देखते हुए राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को नैतिक आधार पर इस्तीफा दे देना चाहिए।