सीएम अशोक गहलोत के विशेषाधिकारी लोकेश शर्मा का इस्तीफा

जयपुर। राजनीतिक मायनों की शायरी करने पर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के विशेषाधिाकारी लोकेश शर्मा को इस्तीफा देना पडा। लोकेश शर्मा वही OSD हैं जिन पर बीजेपी ने गजेन्द्र सिंह शेखावत और बाकियों की सीडी बनवाने और मीडिया में लीक करने का आरोप लगाया था।

पंजाब में मुख्यमत्री अमरिंदर सिह को हटाने के बाद हुए राजनीतिक माहौल के बीच शर्मा ने ट्वीट किया कि मजबूत को मजबूत, मामूली को मगरूर किया जाए। बाड ही खेत को खाये, उस फसल को कौन बचाए।

शर्मा ने हालांकि पंजाब विवाद का जिक्र नहीं किया लेकिन सचिन पायलट समर्थकों द्वारा शर्मा पर पलटवार करने से उनकी शायरी और चर्चा में आ गई तथा इसे आलाकमान पर निशाना माना गया।

इस ट्वीट के बाद आधी रात को लोकेश शर्मा ने अपने पद से इस्तीफा देने की पेशकश वाला पत्र गहलोत को भेज दिया। अपने इस पत्र में लोकेश ने पंजाब के घटनाक्रम पर अपने ट्वीट को लेकर माफी मांगी है।

सीएम गहलोत को भेजे गए लेटर में लोकेश शर्मा ने लिखा कि मेरे द्वारा किए गए ट्वीट को राजनीतिक रंग लेते हुए, गलत मतलब निकालकर पंजाब के घटनाक्रम से जोड़ा जा रहा है। मैं साल 2010 से ट्विटर पर एक्टिव हूं।

मैंने आज तक पार्टी लाइन से अलग, कांग्रेस के किसी भी छोड़े से बड़े नेता के संबंध में और प्रदेश की कांग्रेस सरकार को लेकर कभी कोई ऐसे शब्द नहीं लिखे हैं जिसे गलत कहा जा सके। फिर भी आपको लगता है कि मेरे द्वारा जानबूझकर कोई गलती की गई है तो मैं आपसे विशेषाधिकारी पद से इस्तीफा भेज रहा हूं, निर्णय आपको करना है।