गोविंद सिंह डोटासरा की सोनिया गांधी से मुलाकात

जयपुर। राजस्थान कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने आज कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात कर राज्य में पार्टी की गतिविधियों और संगठन के काम सहित कई मुद्दों पर चर्चा की।

डोटासरा ने नई दिल्ली में सोनिया गांधी से मुलाकात की। मंत्री पद छोड़ने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष से उनकी यह पहली मुलाकात थी। इस दौरान उन्होंने पार्टी की गतिविधियों और संगठन के काम के बारे में चर्चा करते हुए पार्टी संगठन को लेकर फीडबैक दिया। इस मुलाकात के बाद संगठन में खाली चल रहे पदों को शीघ्र ही भरे जाने की संभावना है।

सोनिया गांधी से मिलने के बाद डोटासरा ने कहा कि उन्हें प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष की जिम्मेदारी मिलने के बाद कोरोना के कारण सोनिया गांधी से मुलाकात नहीं हो सकी और आज उनसे मुलाकात कर राजस्थान के राजनीतिक मुद्दों पर चर्चा की है। बढ़ती महंगाई पर मोदी सरकार के खिलाफ पार्टी के जन जागरण अभियान को आगे बढ़ाने पर चर्चा हुई है। उम्मीद है संगठन का विस्तार और खाली पदों पर जल्द नियुक्तियों का काम होगा।

इस मुलाकात के बाद प्रदेश कांग्रेस में पिछले डेढ़ साल से खाली चल रहे जिला और ब्लॉक अध्यक्षों के पदों पर नियुक्तियों के आसार बढ़ गए हैं। डोटासरा ने अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के संगठन महासचिव एवं राजस्थान से राज्यसभा सांसद के सी वेणुगोपाल से भी मुलाकात कर प्रदेश कांग्रेस के संगठनात्मक कार्यों एवं पार्टी के आगामी कार्यक्रमों को लेकर विस्तृत चर्चा की। उन्होंने कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला से भी मुलाकात की।

डोटासरा ने बताया कि उन्होंने इन नेताओं से राज्य में आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर रणनीति बनाने एवं सत्ता एवं संगठन समन्वय के साथ काम कर वर्ष 2023 में प्रदेश में पुनः कांग्रेस सरकार बनाने के प्रयास करने पर चर्चा की।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस सरकार अच्छा काम कर रही है और पिछले दिनों चुनावों में भी अच्छा समर्थन मिला है और आगामी विधानसभा चुनाव में भी पार्टी फिर सत्ता में लौटेगी और इसके बाद प्रयास होगा कि वर्ष 2024 में केंद्र में संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) की सरकार बने।