राजस्थान : करौली के हिंडोन कस्बे में आगजनी और पथराव के बाद कर्फ्यू

Rajasthan: Curfew in Karauli's Hindaun town after fire and stone pelting
Rajasthan: Curfew in Karauli’s Hindaun town after fire and stone pelting

करौली। राजस्थान के करौली जिले के हिंडौन कस्बे में मंगलवार को व्यापारियों द्वारा भारत बंद के दौरान आगजनी और तोड़फोड़ के दोषियों को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर किए जा रहे प्रदर्शन के दौरान तनाव व्याप्त होने के बाद प्रशासन ने कर्फ्यू लगा दिया।

जिला कलेक्टर अभिमन्यु सिंह ने कहा कि शहर में स्थिति तनावपूर्ण लेकिन नियंत्रण में है। उन्होंने कहा कि शहर में कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए पुलिस बल तैनात किया गया है। उन्होंने कहा कि इस संबंध में जिला प्रशासन ने कुछ लोगों को हिरासत में लिया है।

भारत बंद के दौरान हुई आगजनी व तोड़फोड़ का विरोध करने सुबह से ही सड़कों पर भारी संख्या में लोग उतर गए और प्रदर्शन करने लगे। इसी दौरान उत्तेजित भीड़ ने जगह-जगह पथराव किया और भारतीय जनता पार्टी की विधायक राजकुमारी जाटव और पूर्व मंत्री भरोसी लाल जाटव के मकान में आग लगा दी।

इससे पहले पुलिस द्वारा शहर में किए जा रहे पैदल मार्च के दौरान उपद्रवी भीड़ ने पथराव शुरू कर दिया। जिसे रोकने के लिए पुलिस ने पहले लाठी चार्ज और फिर आसूं गैस के गोले छोडे। इसके बावजूद भीड़ वहां डटी रही। पुलिस द्वारा छोड़े गए आसूं गैस का एक गोला समीप के एक सरकारी स्कूल में गिरा जिससे वहां दो दर्जन से अधिक छात्रों के घायल होने की सूचना भी मिली है।

उल्लेखनीय है कि कल अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति अधिनियम में संशोधन करने के खिलाफ आयोजित भारत बंद के दौरान हिंडोन में जमकर तोड़फोड़ और हिंसा हुई थी जिसमें व्यापारियों को भारी नुकसान हुआ।

इसके विरोध में आज व्यापारी समुदाय और संगठनों ने दोषियों को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर प्रदर्शन किया। इस दौरान हुई हिंसा और पथराव के कारण शहर में तनाव के हालात बन गए और प्रशासन को वहां कर्फ्यू लगाना पडा।