शिविरा पंचांग में बदलाव, छुट्टियों के बीच 21 जून को योग दिवस

बीकानेर। राजस्थान के शिक्षा विभाग ने शिविरा पंचांग में परिवर्तन करते हुए एक जुलाई से सरकारी और गैर सरकारी स्कूल शैक्षणिक कार्य शुरू करने का आज निर्देश दिया।

इस बीच शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा है कि राज्य सरकारी एवं गैर सरकारी विद्यालयों की कक्षाएं अब एक जुलाई से लगेेंगी, लेकिन स्कूली स्टाफ को 24 जून से उपस्थिति देनी होगी।

डोटासरा ने बताया कि शिविरा पंचांग में परिवर्तन किया गया है। इससे पहले योग दिवस 21 जून को ही मनाया जाएगा। इसके लिए एक दिन के लिए विद्यार्थियों को बुलाया जाएगा। हालांकि कक्षाएं एक जुलाई से ही शुरू होंगी। इसके लिए परिपत्र अलग से जारी कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि केंद्र की तर्ज पर योग दिवस जरुर मनाया जाएगा।

डोटासरा ने कहा कि हम उनकी मानसिकता के खिलाफ हैं न कि योग दिवस के। योग अच्छा है, योग में क्या बुराई है? योग करते रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि योग दिवस के लिए अलग से निर्देश निकाले गए हैं, लेकिन योग के लिए कई दिनों पहले स्कूल खुलें यह सही नहीं है। शिक्षामंत्री डोटासरा ने एक सवाल के जवाब में कहा कि विद्यार्थी योग के लिए एक दिन के लिए स्कूल अवश्य आएंगे। बाद में एक जुलाई से स्कूलें खुलेंगी।

शीतकालीन अवकाश भी अब 25 दिसंबर से 31 दिसंबर तक होंगे। भाजपा सरकार के समय शीतकालीन अवकाश बढ़ा दिए गए थे जबकि ग्रीष्मकालीन अवकाश कम कर दिए गए थे। हालांकि स्कूल के दौरान शिक्षकों को 24 जून से आना होगा और स्कूलों में उपस्थिति देनी होगी। 24 जून से शिक्षक नए प्रवेश एवं टीसी देने का काम करेंगे।

अपने सही राशिफल के लिए यहाँ क्लिक करें

फ़्रेंड्स आज हम हमेशा की तरह रोचक आर्टिकल लेकर आये हैं 30 जून से कुछ राशियों (Rashiyo) का भाग्य बदलने वाला है । गोचर में ग्रहों की बेहतर कंडीशन के चलते इन 8 राशियों को फायदा मिलने वाला है । इकोनॉमिक हालात बेहतर होंगे । लव लाइफ अच्छी पोज़िशन में होगी तो चलिए जानते :

वृषभ, कर्क व मिथुन :- आपके ऊपर माता रानी की कृपा से आप जो भी वर्क करेंगे उस कार्य में आपको सफल होने से कोई नहीं रोक सकता हैं। आपको आकस्मिक कोई बहुत बड़ा धन लाभ हो सकता है जिससे आपका मन प्रफुल्लित रहेगा। परिवार में चल रही सभी प्रकार की परेशानियों से जल्दी छुटकारा मिलने वाला है।

तुला, धनु व वृश्चिक राशि :- इस राशि के जातक इकोनॉमिक कंडीशन पर विचार करते हुए भविष्य विधि के लिए योजना बनाएं। कोई बड़ा पद आपको मिल सकता है। कार्यस्थल पर अपनेपन के भाव के कारण कई लोग आपके साथ जुड़ सकते हैं जिसे आपको जबरदस्त सफलता मिल सकती हैं । संतान से सहयोग मिलेगा। आपकी इनकम बढ़ सकती है।