सरकार बदलने की परम्परा तोडें, बीजेपी को दें फिर मौका : वसुंधरा राजे

rajasthan gaurav yatra 2018 : cm vasundhara raje in sumerpur pali
rajasthan gaurav yatra 2018 : cm vasundhara raje in sumerpur pali

पाली/सुमेरपुर। राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा है कि हमारी सरकार ने पांच साल में विकास के वो काम करने के प्रयास किए हैं जो कांग्रेस पचास सालों में नहीं कर पाई, लेकिन जो विकास 22 साल में गुजरात की भाजपा सरकार ने किया वह यहां पांच साल में कैसे संभव हो सकता है। इसके लिए राजस्थान में भी सरकार बदलने की परम्परा को तोड़कर भाजपा को लगातार सेवा का मौका देना होगा।

राजे ने आज सुमेरपुर में आयोजित एक जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि बात गुजरात की ही नहीं, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ की भी है। वहां भाजपा को लगातार मौका मिला तो वह प्रदेश विकास में बहुत आगे निकल गए हैं। यदि राजस्थान में भी आने वाले समय में भाजपा को लगातार मौका मिला तो यह प्रदेश देश का सबसे विकसित प्रदेश होगा।

उन्होंने कहा कि उन्होंने गरीबी हटाओ का नारा तो नहीं दिया, लेकिन गरीबी हटाने का दिल से प्रयास किया। गरीबों को सशक्त किया। महिलाओं को सशक्त बनाया। राजश्री योजना के माध्यम से बालिका के जन्म से लेकर 12वीं कक्षा पास करने तक 50 हजार रूपए देने की व्यवस्था की। साइकिल, स्कूटी, लेपटॉप एवं वाउचर योजना के माध्यम से उसे शिक्षा के लिए प्रेरित किया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वे महिला मुख्यमंत्री है। इसलिए आज भामाशाह योजना के माध्यम से हर घर की मुखिया भी महिला ही है जो अपने-अपने घर की मुख्यमंत्री है। कांग्रेस के नेता कहते हैं कि महिला सशक्तीकरण की भामाशाह योजना कार्ड के वे टुकडे़-टुकडे़ कर देंगे। वे ऐसा इसलिए कह रहे हैं क्योंकि भामाशाह योजना ने महिलाओं को स्वावलम्बी बनाने के साथ-साथ भ्रष्टाचार रोकने का काम भी किया है। कांग्रेस नहीं चाहती कि भ्रष्टाचार खत्म हो और महिला सशक्त बने। इसलिए वो भामाशाह योजना को बंद करना चाहती है पर उनके सपने पूरे नहीं होने वाले।

राजे ने कहा कि मुझे महिलाओं को देखकर बहुत खुशी होती है। मुझे इसलिए भी खुशी होती है कि आज देश में छह महिला राज्यपाल एवं उप राज्यपाल हैं। केन्द्रीय मंत्रिमंडल में नाै महिला सदस्य हैं। लोकसभा अध्यक्ष भी महिला है। उच्चतम न्यायालय की तीन जज भी महिला है। राजस्थान उच्च न्यायालय की दो जज महिला हैं। हमारे यहां भी भाजपा की 23 महिला विधायक हैं, जिनमें से 5 मंत्री है। जिधर देखा उधर ही महिला।

उन्होंने कहा कि झूठ और जनता में भ्रम फैलाकर कांग्रेस पहले हुकूमत पाने में कामयाब हो जाती थी, लेकिन जनता अब समझ गई है। वो जान गई है कि इनके पास काम नहीं, सिर्फ झूठी बातें हैं। वे सांसद थी तब झालावाड़ में पद यात्रा, प्रदेश की राजनीति में आई तब 2003 में परिवर्तन यात्रा, 2013 में सुराज संकल्प यात्रा और वर्तमान में राजस्थान गौरव यात्रा के माध्यम से उन्होंने प्रदेश का चप्पा-चप्पा छाना है, लोगों की तकलीफे समझकर उन्हें दूर करने का प्रयास किया है। मुंह दिखाई तो कांग्रेस के नेता कर रहे हैं जिन्होंने विपक्ष में रहते हुए एक शब्द नहीं बोला। न गरीब के हितों के लिए न महिलाओं के आत्मसम्मान के लिए।

इस अवसर पर केन्द्रीय विधि राज्य मंत्री पीपी चौधरी, स्वास्थ्य मंत्री कालीचरण सराफ, मुख्य सचेतक मदन राठौड़ और सहित अनेक जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

सुमेरपुर की अड़तीस हजार हेक्टेयर भूमि सिंचित होगी

वसुन्धरा राजे ने कहा है कि जवाई बांध से सुमेरपुर विधानसभा क्षेत्र को पानी मिलेगा, जिससे अड़तीस हजार हेक्टेयर भूमि सिंचित होगी। राजे ने कहा कि यह महत्वपूर्ण परियोजना दो चरणों में पूरी करेंगे। उन्होंने कहा कि पहले चरण में 300 करोड़ रूपए और दूसरे चरण में भी 300 करोड़ रूपए खर्च होंगे तथा इसकी डीपीआर सितम्बर में तैयार हो जाएगी। उन्होंने कहा कि साबरमती बेसिन के अतिरिक्त पानी को जवाई बांध मेें डाला जाएगा।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने सुमेरपुर विधायक मदन राठौड़ को माला पहनाकर उनका माला नहीं पहनने का व्रत तोड़ा। उल्लेखनीय है कि विधायक राठौड़ ने घोषणा कर रखी थी कि जब तक वे जवाई बांध परियोजना की घोषणा नहीं करवा देंगे, तब तक माला नहीं पहनेंगे। आज मुख्यमंत्री ने घोषणा कर दी और उन्होंने माला पहन ली।